फरवरी 07, 2018

टाटा स्टील ने, हॉकी ऑस्ट्रेलिया के साथ मिलकर, गोमारडीह, ओड़ीसा में 2 दिवसीय हॉकी टूर्नामेंट का आयोजन किया है

ओड़ीसा में विकसित घरेलू हॉकी में ऑस्ट्रेलियन टच

गोमारडीह: टाटा स्टील ने, हॉकी ऑस्ट्रेलिया के प्रशिक्षकों के सहयोग से, जो ऑस्ट्रेलिया में हॉकी का प्रशासकीय निकाय है, ओड़ीसा के सुंदरगढ़ जिले में स्थित कुतरा ब्लॉक के गोमारडीह में एक 2-दिवसीय मेगा हॉकी कार्यक्रम का आयोजन किया है। 

हॉकी ऑस्ट्रेलिया के जेम्स लिगिंस, थॉमस एरिक विंटर तथा आइवी व्हेलन के निर्देशन में, इस हॉकी कार्यक्रम का आयोजन किया गया इसमें 400 से ज्यादा आदिवासी खिलाड़ियों ने भाग लिया।

वरिष्ठ खिलाड़ियों के लिए एक अंतर-ग्राम हॉकी टूर्नामेंट 6 फरवरी, 2018 को आयोजित किया गया, जो इस दो-दिवसीय मेगा हॉकी कार्यक्रम का एक अंग है, जिसमें कुतरा तथा राजगंगपुर ब्लॉक के तहत आनेवाले निकटवर्ती गांवों की 10 टीमों ने भाग लिया। 

टाटा स्टील रूरल डेवलपमेंट सोसाइटी (TSRDS), गोमारडीह इकाई, नजदीकी गांवों में 10 प्रशिक्षण केंद्र चला रही है। 30 खिलाड़ी प्रति केंद्र के हिसाब से, 300 खिलाड़ियों ने, जिनमें 7 से 12 वर्ष आयु की 150 बालिकाएं भी शामिल हैं, 5 फरवरी, 2018 को आयोजित चयन शिविर में भाग लिया। चयनित खिलाड़ियों ने इसी दिन आयोजित एक टूर्नामेंट में भाग लिया और इसमें विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया।

मंगला किसान, एमएलए, राजगंगपुर, अंडर-12 के बच्चों के लिए आयोजित इस टूर्नामेंट में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए और उन्होंने विजेताओं को पुरस्कृत भी किया। इस प्रयास के लिए टाटा स्टील की सराहना करते हुए, श्री किसान ने अपनी राय व्यक्त की कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से बच्चों को हॉकी को एक पेशे के रूप में अपनाने का प्रोत्साहन मिलेगा और इससे उन्हें जिले की परंपरा को बरकरार रखते हुए, राज्य तथा राष्ट्रीय हॉकी टीम में शामिल होने में सहायता मिलेगी।

इस अवसर पर बोलते हुए, अम्बिका नंदा, प्रमुख, सीएसआर, टाटा स्टील, ओड़ीसा ने यह सूचित किया कि टाटा स्टील का उद्देश्य है कि कुछ चुने हुए छात्रों के पेशेवर विकास के लिए उन्हें हॉकी अकादमियों से जोड़ने की सुविधा उपलब्ध कराई जाए।

टाटा स्टील ने, हॉकी ऑस्ट्रेलिया के सहयोग से, गोमारडीह के आसपास के स्कूली बच्चों के लिए एक आधारभूत हॉकी विकास कार्यक्रम- हूकिंग 2 हॉकी- का आयोजन किया है, जहां 2016 से इस प्रमुख स्टील कंपनी के पास एक डोलोमाइट खदान है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य ग्रामीण हॉकी प्रतिभाओं को प्रशिक्षण प्रदान करना और उन्हें अपनी खेल कुशलता दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करना है।

जिले के कुतरा और राजगंगपुर ब्लॉक के तहत आनेवाली निकटवर्ती पंचायतों जैसे- टुनमुरा, कुटनिया, झारबेड़ा, पोचरा आदि के हॉकी ऑस्ट्रेलिया द्वारा प्रशिक्षित सभी 10 हॉकी कोचिंग केंद्रों के खिलाड़ियों और प्रशिक्षकों ने इस टूर्नामेंट में भाग लिया। 

विगत तीन वर्षों में प्रतिभागियों के कौशल विकास के प्रति अपनी प्रसन्नता अभिव्यक्त करते हुए, हॉकी ऑस्ट्रेलिया के हॉकी कोच, श्री लिगिंस ने कहा कि इस खेल में बच्चों का भविष्य उज्जवल है, अगर वे अपने कोच के निर्देशन में इस खेल में भाग लेते रहते हैं।

टाटा स्टील में कौशल विकास के प्रमुख, कैप्टन अमिताभ; संजय सरदार, इकाई प्रमुख, TSRDS; टाटा स्टील स्कूल टीचर्स के कर्मचारीगण; टाटा स्टील के अधिकारीगण, तथा स्थानीय ग्रामीण इस आयोजन के अवसर पर उपस्थित थे।