फरवरी 07, 2018

टाटा पावर ने मुंबई में मुफ्त स्वास्थ्य जागरुकता शिविरों का आयोजन किया

मुंबई: भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी टाटा पावर ने हमेशा ही समुदाय के स्वास्थ्य और कल्याण की दिशा में अपना योगदान दिया है। इसी प्रतिबद्धता के तहत टाटा पावर कम्युनिटी डेवलपमेंट ट्रस्ट (TPCST) ने मुंबई के स्लम इलाकों में मुफ्त स्वास्थ्य जागरुकता शिविरों का आयोजन किया। दो मेडिकल शिविरों में कुल मिलाकर 339 रोगियों ने मुफ्त औषधि वितरण के लाभ उठाए।

स्वास्थ्य शिविर में अपनी जांच कराती महिलाएं

शिविर का उदेश्य था मुंबई के गरीब लोगों के दरवाजे तक मुफ्त स्वास्थ्य चिकित्सीय निदान और उपचारात्मक स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाना। इस अभियान में महिलाओं, बच्चों तथा बुजुर्ग लोगों को प्राथमिकता दी गई। 

इन मेडिकल कैंपों का आयोजन लार्सन एंड टूब्रो (L&T) के सीएसआर विंग तथा बीएसईबी हॉस्पीटल की सहभागिता से किया गया। शिविर का संचालन एक सुयोग्य डॉक्टर, नर्स, फर्मासिस्ट द्वारा किया गया और आवश्यक दवाओं से युक्त एक मोबाइल मेडिकल वैन की मदद ली गई।

इस प्रयास पर बोलते हुए टाटा पावर के सीओओ और एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अशोक सेठी ने कहा, ‘टाटा पावर ने हमेशा अपने समुदायों को समग्र स्वास्थ सेवाएं मुहैया कराने की दिशा में काम किया है। हमने हमेशा अपने परिचालन क्षेत्रों के आस-पास रहने वाले लोगों को सर्वोत्तम स्वास्थ्य कार्यव्यवहारों के बारे में जागरुक कर उनके जीवन में बेहतरी लाने के प्रयास किए हैं और साथ ही उन्हें मुफ्त स्वास्थ्य जांच और औषधि प्राप्त करने के अवसर भी प्रदान किए हैं। हालिया स्वास्थ्य शिविर समुदाय की बेहतरी सुनिश्चित करने की दिशा में हमारी प्रतिबद्धता को उजागर करता है और साथ ही L&T के CSR विंग के साथ हमारी साझेदारी के जरिए मजबूत कॉरपोरेट सोशल अंतर्संबंध को भी परिलक्षित किया है। हम L&T CSR तथा TPCDT के कर्मचारियों के साथ सभी डॉक्टरों, नर्सों व अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हैं जिन्होंने इस प्रयास को सफल बनाया।’

शिविर के दौरान डॉक्टरों ने एनीमिया, त्वचा संक्रमण, कुपोषण, तथा ऐसे अन्य रोगों के मामले पाए जो स्लम इलाके में व्याप्त रहते हैं। शिविर के जरिए TPCDT विभिन्न रोगों तथा उनके रोकथाम के उपायों के बारे में स्लम निवासियों को शिक्षित करने में सक्षम हुए।