नवम्बर 01, 2017

टाटा पावर्स इंडस्ट्रियल एनर्जी द्वारा कलिंगनगर में टीचर ओरिएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन

कलिंगनगर: भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी टाटा पावर ने हमेशा ही अपने परिचालन क्षेत्रों के आस-पास रहने वाले छात्रों की शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए अनेक उपाय किए हैं। इसी प्रतिबद्धता के तहत, इंडस्ट्रियल एनर्जी (आईईएल)-कलिंगनगर टीम ने कलिंगनगर में स्पेशल कोचिंग सेंटर्स के शिक्षकों के लिए एक ओरिएंटेशन कार्यक्रम आयोजित किया। इस प्रयास से 30 से अधिक शिक्षक प्रशिक्षित और लाभान्वित हुए। टीम ने एक स्कूल एक्सीलेंसी प्रोग्राम भी चलाया जिसके तहत गणित, विज्ञान और इंगलिश जैसे विषयों में लगभग 1100 छात्रों को विशेष कोचिंग प्रदान की गई।

इस ओरिएंटेशन का उद्देश्य था शिक्षकों के शिक्षण में गुणवत्ता और सुसंगति लाने के लिए शिक्षकों के कौशल तथा ज्ञान को मजबूत करना। मुख्य ट्रेनर प्रदीप कुमार विस्वाल ने पेशे में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए सही नजरिया और व्यवहार की आवश्यकता के बारे में बताया। प्रशिक्षण को सहभागी और समझने में सरल बनाने के लिए इस सेशन में शिक्षकों के लिए विविध शिक्षण मॉड्यूल शामिल किए गए। ओरिएंटेशन प्रोग्राम का उद्घाटन IEL के सीईओ विजय रंजन और कंपनी के हेड CSR दिलीप साहू ने किया।

इस अवसर पर बोलते हुए विजयंत रंजन, सीईओ, आईईएल ने कहा, ‘टाटा पावर का मानना है कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा बच्चों के विकास के लिए अति महत्वपूर्ण है और बेहतर भविष्य के निर्माण के इसकी महती भूमिका होती है। इस पहल के माध्यम से, हम शिक्षकों को शिक्षण में विशेषज्ञता वाले कौशलों से सशक्त करने का लक्ष्य करते हैं जिससे कि वे विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा देने में सक्षम हों। यह पहल वंचित वर्ग के बच्चों के लिए विशेष लाभकारी होगा जिन्हें स्कूलों में सही दिशा और मार्गदर्शन नहीं मिल पाता। टाटा पावर भविष्य में भी शिक्षकों और छात्रों के लिए प्रशिक्षण और विकास कार्यक्रम चलाना जारी रखेंगे।’

कार्यक्रम CAAD द्वारा डिजायन किया गया और टाटा पावर कम्युनिटी डेवलपमेंट ट्रस्ट इन इंडिया (TPCDT) तथा IEL, कलिंगनगर के सहयोग से चलाया गया।