नवम्बर 07, 2017

टाटा पावर डेल्ही डिस्ट्रीब्यूशन द्वारा रोहिणी में 19वें व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ

  • सालाना 250 से अधिक लाभार्थियों को सेवा प्रदान करते हुए स्किल इंडिया प्रोग्राम में योगदान करना इस केंद्र का लक्ष्य है
  • ये केंद्र वंचित वर्ग के युवाओं को वांछित कौशल सीखने में मदद हेतु मंच प्रदान करते हैं जिनसे वे रोजगार पाने की क्षमता हासिल करते हैं और आजीविका हासिल करने की दिशा में सशक्त होते हैं

नई दिल्ली: स्किल इंडिया कार्यक्रम में योगदान करने के लक्ष्य के साथ टाटा पावर डेल्ही डिस्ट्रीब्यूशन (टाटा पावर -DDL) ने रोहिणी सेक्टर- 11 में झुग्गी झोपड़ी (जेजे) संकुलों और पुनर्वास कॉलोनियों के सामाजिक रूप से वंचित वर्गों के बच्चों, युवाओं और महिलाओं के लिए अपने 19वें व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ किया। यह केंद्र अशिमा फाउंडेशन की सहभागिता से संचालित किया जाएगा और इसके जरिए हर साल 250 से अधिक युवाओं और बच्चों को कंप्यूटर, सिलाई और टेलरिंग के प्रशिक्षण प्रदान किए जाएंगे।

VT सेंटर के शुभारंभ के मौके पर व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र के सदस्यों और लाभार्थियों के साथ टाटा पावर-DDL के CEO और MD प्रवीर सिन्हा तथा अशिमा फाउंडेशन की मोनिका सिंहानिया

केंद्र का शुभारंभ कंपनी द्वारा चालित अन्य व्यावसायिक प्रशिक्षण तथा महिला साक्षरता केंद्रों के छात्रों और लाभार्थियों और 150 से अधिक लोगों की मौजूदगी में, जिनमें NGOs, WLC इंस्ट्रक्टर्स, ABHA (स्वयं-सहायता समूह) के सदस्यों, VT केन्द्र के सदस्यों आदि शामिल थे, टाटा पावर-DDL के CEO और MD प्रवीर सिन्हा तथा अशिमा फाउंडेशन की मोनिका सिंहानिया ने किया।

टाटा पावर-DDL के VT सेंटर सिलाई और टेलरिंग, कंप्यूटर प्रशिक्षण (हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर) सहित विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रशिक्षण प्रदान करते हैं। ये सेंटर वंचित वर्ग के युवाओं के लिए उन्हें वांछित कौशल सीखने में मंच मुहैया करता है और उन्हें रोजगार पाने योग्य बनाता है जिससे वे अपनी जीविका अर्जित करने में सशक्त बनते हैं। इन सेंटरों की स्थापना के पीछे मूल उद्देश्य था पारिवारिक आय बढ़ाना और आवश्यकता तथा संसाधन के बीच के अंतराल को पाटना, 2008 से अब तक 5000 से अधिक छात्र इस कार्यक्रम के जरिए लाभान्वित हो चुके हैं।

इस अवसर पर बोलते हुए टाटा पावर-DDL के CEO और MD श्री सिन्हा ने कहा, ‘कौशल विकास युवा सशक्तीकरण के लिए महत्वपूर्ण है। टाटा पावर में हमारी योजना है यथासंभव अधिक से अधिक लोगों तक अपने साक्षरता एवं व्यावसायिक सेटरों की पहुंच को विस्तारित करना और सामाजिक सशक्तीकरण की दिशा में अपने अथक प्रयास के साथ योगदान जारी रखना। व्यावसायिक प्रशिक्षण के जरिए सशक्तीकरण लाते हुए जेजे क्लस्टर में समाज के वंचित वर्ग के उत्थान हेतु लगातार काम करते हैं।’