दिसम्बर 30, 2014

टाटा कॉम्यूनिकेशन्स ने आरंभिक एफ1 कनेक्टिविटी इनोवेशन प्राइज़ के विजेताओं के नाम घोषित किए

एफओएम के डिजिटल पुरालेख को कैटेलोग के रूप में ढ़ालने हेतु जनमेदनी में कोमेन्टरी प्रतियोगिता आयोजित करने की परिकल्पना ने जीत लिया शीर्ष इनाम $50,000 का

टाटा कॉम्यूनिकेशन्स ने आरंभिक एफ1 कनेक्टिविटी इनोवेशन प्राइज़ प्रतियोगिता के ग्रांड प्राइज़ विजेता के नाम से परदा उठा लिया निर्णायक मंडल में 2014 एफआइए फॉर्मूला वन एन्ड ट्रेड; विश्व चैम्पिअन और मर्सीडीज़ एएमजी पेत्रोनास ड्राइवर लूइस हैमिल्टन और एफ1; कमेन्टेटर मार्टिन ब्रुंडल शामिल थे जिन्होंने अपना आखरी निर्णय सुनाते हुए चार सदस्यों की बनी एक ब्रिटिश टीम को ग्रांड प्राइज़ का विजेता घोषित किया। उनका नूतन विचार कि कैसे फॉर्मूला वन मैनेजमेंट के डिजिटल संग्रह के 60,000 घंटों के फूटेज को बतौर कैटेलोग रूपांतरित किया जाएगा, निर्णायक मंडल को बेहद पसंद आ गया और उसी टीम के सदस्यों में $50,000 की इनाम राशि बांटी जाएगी तथा उनमें से दो लोग अगले वर्ष की फॉर्मूला 1 ग्रांड प्रिक्स द मोनेको में बतौर टाटा कॉम्यूनिकेशन्स के अति विशिष्ट अतिथि शामिल होंगे।

जीतने वाली टीम में शामिल हैं जोडी एलन, टोम विलिअम्स, क्रिस रेन्दोल और क्रिस बेलमोरे। लंदन की इस टीम ने उपयोगकर्ताओं को ध्यान में रखते हुए सोचा हुआ एक समाधान सुझाया जो दुनियाभर में फैले प्रशंसकों को इतनी सामर्थ्य दे सकता है जिससे कि वे फॉर्मूला वन मैनेजमेंट के 60,000 से भी अधिक घंटों के विडियो के डिजिटल पुरालेख को कैटेलोग में रूपांतरित करने की प्रक्रिया में अपना योगदान दे सकते हैं। टीम ने जो हल सुझाया है उसका नाम है ‘क्राउड सोर्सिंग कोमेन्टरी चैलेन्ज’; जहां प्रशंसकों को इन पुरालेखों तक पहुंचने का अधिकार दिया जाएगा और उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा कि वे ‘महानतम पलों’ का एक संकलन प्रत्येक सप्ताह अपनी ओर से प्रस्तुत करें। इन पुरालेखों को मेटाडेटा का टैगलाइन दिया गया है और पुरालेखों को खोजते हुए, प्रशंसकों योग्य रेस खोज निकाल सकते हैं और सीधे सादे एडिटिंग इन्टरफेस का इस्तेमाल करते हुए वे अपने पसंदीदा पलों को ढूंढ़ निकाल कर के उसका क्लिप बना सकते हैं। प्रशंसक समुदाय इन क्लिपों पर वोट करेंगे और विजेता को वीआइपी इनाम दिया जाएगा। इस उपयोगकर्ता-केन्द्रित (यूज़र-सेन्ट्रिक) प्रस्ताव से एफ1 के दर्शकों को डिजिटल पुरालेख को कैटेलोग में ढ़ालने की क्षमता मिलने के साथ साथ, प्रशंसकों के अनुभव में भी एक नया परिमाण जुड़ जाएगा।

एफ 1 कनेक्टिविटी इनोवेशन प्राज़ निर्णायक मंडल के एक सदस्य, 2014 एफआइए फॉर्मूला वन ट्रेड ट्राइवर्स वर्ल्ड चैम्पिअन लूइस हैमिल्टन ने कहा, “तीनों चुनौतियों के लिए समचुच ही दावेदार कही जाने वाली अनेकों प्रविष्टियां मिलीं। प्रतियोगिता ने सही में अपने चाहकों को जकड़े रखा और प्रतिभावों से भरे कुछ रोचक क्षण भी देखने मिले। विजय हासिल करने वाला जो सॉलूशन है उसने समझा है कि रेस के प्रशंसकों की सोच क्या होती है, वे कैसे सक्रिय होते हैं और कैसे हमारे खेल के द्वारा रेस के ट्रैकों पर तथा घर में भी हमारे प्रशंसकों के साथ जुड़ने के तरीके विकसित किए जा सकते हैं।”

अपनी जीत पर अपने विचार व्यक्त करते हुए टीम मुखिया एलन जोडी कहते हैं, “दिल से हम लोग फॉर्मूला 1 के प्रशंसक हैं और पूरी तरह से यकीन रखते हैं कि प्रत्येक चाहक की स्मृतियों में अपनी खुद की यादों का एक खजाना भरा है जिसमें खेल के इतिहास के अहम पल अंकित हुए पड़े हैं। कुछ ऐसे हैं जिन्हें तत्काल ही पहचान लिया जा सकता है, अन्य कुछ बेहद वैयक्तिक और निजी हैं। इन पलों को विवरणकार के साथ जोड़ने से हम कुछ ऐसा बना पाये कि जो एक घिसेपिटे और एक ही ढ़ांचे में बंधा हुआ न था बल्कि, बहते हुए पलों की वो एक ऐसी गतिपूर्ण श्रृंखला बनी जहां इस खेल के बारे में प्रत्येक के वैयक्तिक द्दष्टिकोण भी शामिल थे। हमें बहुत ही खुशी है कि निर्णायकों ने हमारे इस प्रस्ताव का स्वागत किया है क्योंकि इस काम को करने में कई बारीकियों को ध्यान में – रखना पड़ा था और कई रातों देर तक की गई मेहनत भी थी।”

इसके समग्र निर्णायक मंडल में कुछ नाम मोटर रेसिंग की दुनिया में अग्रसर लोगों के भी हैं, इनमें शामिल हैं 2014 एफआइए फॉर्मूला वन ड्राइवर्स वर्ल्ड चैम्पिअन और मर्सीडीज़ एएमजी पेत्रोनास फॉर्मूला वन टीम ड्राइवर लूइस हैमिल्टन; 2014 एफआइए फॉर्मूला वन कन्स्ट्रक्टर्स वर्ल्ड चैम्पिअनशिप –विनिंग टीम इग्झिक्यूटिव डिरेक्टर (टेकनिकल), पेड्डी लोवे; फॉर्मूला वन मैनेजमेन्ट के मुख्य टेकनिकल ऑफिसर ज्होन मोरिसन; एफ 1 कमेन्टेटर, मार्टिन ब्रुंडल, टाटा कॉम्यूनिकेशन्स के एफ 1 बिज़नस के प्रबंध निदेशक मेहूल कापड़िया, टाटा कॉम्यूनिकेशन्स के जूली वुड्स-मोस, मुख्य मार्केटिंग अफसर और नेक्स्टजेन बिज़नस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी; और ज्होन हेडक, टाटा कॉम्यूनिकेशन्स के प्रेसिडन्ट और सीटीओ।

मेहूल कापडिया, एफ 1, बिज़नस, टाटा कॉम्यूनिकेशन्स के प्रबंध निदेशक-ने कनेक्टिविटी इनोवेशन प्राइज़ का उसके बिलकुल योग्य तरीके से, इस पुष्टि के साथ किया कि निकट भविष्य में चुनौती फिर से आएगी। “टाटा कॉम्यूनिकेशन्स में हमने तय किया था कि फॉर्मूला वन मैनेजमेन्ट औऱ मर्सीडीज़ एएमजी पेत्रोनास के साथ सहयोग किया जाए ताकि दुनिया भर में फैले इस खेल के चाहकों को अपनी सृजनात्मकता तथा खेल के प्रति जुनून दिखाने का मौका दिया जा सके।” यह एक सही मायनों में वैश्विक प्रतियोगिता रही और हमें गर्व है कि कुछ वाकई दीर्घद्दष्टिपूर्ण विचारों को प्रोत्साहित करने में एक उद्दीपक के रूप में काम किया है।”

ज्होन मोरिसन, फॉर्मूला वन मैनेजमेन्ट के मुख्य तकनीकी ऑफिसर ने कहा, “दुनिया भर से मिली प्रविष्टियों के कई प्रतिभागियों का मैं अभिनंदन करना चाहूंगा, उनके काम की गुणवत्ता र इस चैलेन्ज में हिस्सा लेने के लिए उन्होंने जो प्रयास किए, उनका यह काम स्वयं ही बोलता है। बार अकल्पनीय रूप से अत्यंत ऊंचे स्थापित किया गया है।”

टाटा कॉम्यूनिकेशन्स द्वारा जारी की गई प्रतियोगिता, जो कि फॉर्मूला वन मैनेजमेन्ट और मर्सीडीज़ एएमजी पेत्रोनास फॉर्मूला वन की टीमों के साथ मिल कर जो यह आयोजन किया गया था वो तीन हिस्सों में चलने वाला क्राउड सोर्सिंग मंच था, और ऐसे नवप्रवर्तन के लिए था जो फॉर्मूला1 रेसिंग 2014 सीज़न के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर दिमागी सामर्थ्य, कौशल को प्रवृत्त व सक्रिय कर दे। इन चुनौतियों ने ऑस्ट्रेलिआ, ब्राज़िल, कनाड़ा, फिनलैन्ड, जर्मनी, भारत, सिंगापोर, युके, युएसए, स्पेन तथा अन्य राष्ट्रों की नवप्रवर्तक टीमों, समूहों को अपनी अपनी प्रविष्टियां भेजने के लिए प्रेरित कर दिया और इस प्रकार यह सही मायनों में एक वैश्विक घटना बनी रही।

निर्णायक टीम और विजेता टीम का  विडियो यहां देखा जा सकता है