दिसम्बर 29, 2014

टाटा एआइए लाइफ ने समाज के आर्थिक रूप से निर्बल लोगों के लिए पूरी तरह से सूक्ष्म बीमा समाधान उपलब्ध कराने वाली टाटा एआइए लाइफ इंश्योरेंस नवकल्याण योजना जारी की

मुख्य खूबियां:

  • एक प्योर टर्म बीमा प्लान, जिसमें पॉलिसी की अवधि के दौरान पूरी जीवन सुरक्षा साथ है
  • पॉलिसी तथा प्रिमियम चुकौती के लिए 5 वर्ष की अवधि निश्चित
  • वार्षिक प्रीमियम रू.10,000 की बीमा राशि के लिए *116 जितना कम होगा।
  • उत्पाद खरीद के लिए किसी प्रकार के चिकित्सा परीक्षण की आवश्यकता नहीं

मुंबई: टाटा एआइए लाइफ इंश्योरेंस (टाटा एआइए लाइफ) ने आज घोषित किया कि टाटा एआइए लाइफ इंश्योरेंस नवकल्याण योजना(नवकल्याण योजना) उन लोगों के लिए सूक्ष्म जीवन बीमा सुरक्षा है जो या तो गांव में या शहर में गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करते हैं।

नवकल्याण योजना, एक नोन पार्टिसिपेटिंग, नियमित प्रीमियम चुकाने की आवश्यकता वाला टर्म इंश्योरेंस हल है और इसमें दाखिल होने की कम से कम आयु 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु 60 वर्ष है। इस समाधान में पांच साल की निश्चित पॉलिसी समयावधि प्रस्तुत की जाती है तथा बीमा राशि रू.10,000 से ले कर रू. 50,000 तक की हो सकती है। ग्राहक अपने प्रीमियम का भुगतान वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रिमासिक –जैसे भी करना चाहें, अपनी सुविधा के अनुसार पसंद कर सकते हैं।

इस समाधान का वितरण टाटा एआइए लाइफ के लाइसंसधारी माइक्रो इंश्योरेंस एजेंट्स के द्वारा किया जा सकता है और गैर सरकारी संगठनें (एनजीओ), माइक्रो फाइनान्स इन्स्टिट्यूशन (एमएफआइ) तथा स्वयंसहाय समूह (सेल्फ हेल्प ग्रूप) इनके लाइसंसधारी माइक्रो इंश्योरेंस एजेंट हैं। टाटा एआइए लाइफ के पास माइक्रो फाइनान्स एजेंटों का सुद्रढ़ नेटवर्क है जो 12 राज्यों में 51 ज़िलों में कार्यरत है।

जीवन बीमा समाधान प्रस्तुति की घोषणा करते हुए रवि विश्वनाथ, टाटा एआइए लाइफ के नायब मुख्य कार्यकारी अधिकारी-ने कहा, “ नवकल्याण योजना लॉन्च करने से, देश में जीवन बीमा को और अधिक व्यापक बनाने की हमारी प्रतिबद्धता को बल मिलेगा तथा समाज के आर्थिक रूप से निर्बल लोगों के लिए ‘अच्छा होगा’। हमें पूरा भरोसा है कि विभिन्न गैर लाभकारी संगठनों, एमएफआइ तथा स्वयं सहाय समूहों के साथ हमारा सहयोग, हमें भारत के दूर दराज़ इलाकों, कोनों में बसने वाले इन लोगों तक पहुंचना संभव बनाएगा।”

*यह प्रीमियम 18 वर्ष के स्वस्थ व्यक्ति के लिए है।