सितम्बर 13, 2017

विस्तारा ने भारत की सबसे बड़ी ऐविशेन हैकाथन की घोषणा की

  • विस्तारा ने 30-घंटे लंबी भारत की सबसे बड़ी ऐविएशन हैकाथन की घोषणा की
  • विस्तारा हैकाथन के लिए पंजीकरण 25 सितम्बर 2017 तक खुले हैं
  • अखिल भारतीय विस्तारा हैकाथन 7 व 8 अक्टूबर 2017 को दिल्ली/एनसीआर और बेंगालुरू में होगी

नई दिल्ली: भारत की सबसे बेहतरीन पूर्ण सेवा कैरियर, विस्तारा ने ऐविएशन में अपनी तरह देश की सबसे बड़ी हैकाथन, विस्तारा हैकाथन की शुरुआत की। इस विस्तारा हैकाथन का उद्देश्य पूरे देश के युवा मस्तिष्कों को ऐसे अभिनव समाधानों के निर्माण में भागीदारी के लिए प्रोत्साहित करना है जो भारत में यात्रियों के लिए उड़ा अनुभव के रुपांतरण के एयरलाइन के विजन के अनुरूप उद्योग को हिला दे। अखिल भारतीय विस्तारा हैकाथन 7 व 8 अक्टूबर 2017 को दिल्ली/एनसीआर और बेंगालुरू में होगी, जिसके लिए पंजीकरण 25 सितम्बर 2017 से शुरु होंगे। इन्क्यूबेटइंड के साथ सहयोग में आयोजित विस्तारा हैकाथन में हर शहर से 20 टीमें शामिल होंगी जो अन्य चुनौतियों के साथ यात्री व्यवहार ट्रैक करने, एयर ट्रैवल का वैयक्तीकरण, एयरपोर्टों पर इंटेलीजेंट क्राउड निगरानी, तृतीय पक्ष एपीआई औऱ सॉफ्टवेयर के साथ प्रणाली एकीकरण, इनफ्लाइट मनोरंजन था इंटेलीजेंट ग्राहक टारगेटिंग जैसे क्षेत्रों में विमानन से जुड़ी चुनौतियों को संबोधित करने वाले नए एप्लीकेशन व टूल बनाने में एक दूसरे से प्रतिस्पर्धा करेंगी। विस्तारा हैकाथन में पेश समाधानों की प्रौद्योगिकी और विमानन विशेषज्ञों के पैनल द्वारा समीक्षा की जाएगी जो विजेताओं को मौलिकता, स्केलेबिलिटी और सफल निष्पादन के आधार पर चुनेंगे।

फी टेक योह, सीईओ विस्तारा ने कहा, “विस्तारा नवाचार, हमारी हर गतिविधि में शामिल है जिसमें डिजाइन से लेकर हमारे उत्पादों और सेवाओं की डिलेवरी शामिल है और ऐसा करते हुए अपने ग्राहकों को खुश करना भी शामिल है।

सूचना प्रौद्योगिकी हमारी रीढ़ है, जो हमें इस रास्ते पर अग्रणी बनाए रखती है और सही चीज को सही समय पर सबसे प्रभावी तरीके से करने में मदद करती है। यह विस्तारा हैकाथन, भारत में लोगों की यात्रा करने के तरीके को बदलने के हमारे प्रयास में प्रौद्योगिकी का लाभ लेने के हमारे अभिनव दृष्टिकोण का प्रतिबिंब है और इसलिए विस्तारा के साथ उनके लिए ‘उड़ान के नए एहसास’ को पेश करता है।”

एयरलाइन के प्रौद्योगिकी पर फोकस को समझाते हुए रविन्दर पाल सिंह, चीफ, इन्फॉरमेशन व नवाचार अधिकारी, विस्तारा ने कहा, “विस्तारा पहली भारतीय एयरलाइन हो जिसने एक से दूसरे सिरे तक आईटी बुनियादी ढ़ांचे को क्लाउड पर बनाया है। ग्राहक संपर्क बिंदुओ पर यात्रियों के लिए सुविधा को अधिकतम करने से लेकर उत्पादकता बढ़ाने व लागत कम करने के लिए जिम्मेदार आंतरिक प्रक्रियाओं को सरल करने तक – हम सभी मार्गों पर नवाचार लाने के लिए हम नवीनतम प्रौद्योगिकियों को अपना रहे हैं। विमानन उद्योग में जबरदस्त बदलावों को लाने में प्रौद्योगिकी सहायता करेगी, जिनमें से कुछ के विस्तारा हैकाथन में मिलने की आशा है।”

विस्तारा ने आधुनिकतम व्यवसाय सॉफ्टवेयर, मोबिलिटी, इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी), मशीन लर्निंग, बिग-डेटा प्रभाव और अपने कार्यस्थल पर लोगों व गुणवत्ता को बेहतर करने में निवेश करना जारी रखा है – इन सबका प्रयोजन सभी संपर्क बिंदुओं पर अभूतपूर्व अनुभव देने के साथ-साथ प्रक्रियाओं व परिचालनों को इष्टतम करना है। तीन साल से कम समय में, विस्तारा ने अपनी प्रगति को समर्थन देने और अपने लाखों यात्रियों के लिए अबाध अनुभव सुनिश्चित करने के लिए मजबूत तकनीकी ढांचा विकसित किया है।