जून 13, 2017

टाटा स्टील आयोजित सेक्कोर प्रीमियर लीग का नोआमुंडी में समापन हुआ

नोआमुंडी: टाटा स्टील की ओर माइन्स व क्वेरी डिवीजन द्वारा आयोजित दो माह लंबी सेक्कोर प्रीमियर लीग का स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, नोआमुंडी में आज विशाल उपस्थिति में समापन हुआ। इस समापन समारोह में झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू शामिल हुई जो कि इस आयोजन की मुख्य अतिथि थीं। इस अवसर पर उपस्थित अन्य प्रमुख मेहमानों में  गीता कोडा, एमएलए, जगन्नाथपुर; मेनका सरदार, एमएलए, पोटका; डॉ शांतनु कुमार अग्निहोत्री, जिला कमिश्नर, पश्चिमी सिंहभूमि; अनीश गुप्ता, पुलिस सुपरिटेंडेंट, चाईबासा; राजीव सिंघल, उपाध्यक्ष, कच्चा माल, टाटा स्टील; और पंकज सतीजा, महाप्रबंधक, ओएमक्यू, टाटा स्टील शामिल थे।

अंतिम मैच अपने चरम पर

समापन समारोह में, न्यू स्टार, पूर्णिया और बीएस बारा सरजू, टांटानगर ने सीनियर श्रेणी में फाइनल खेला, जबकि बारुगुठलू, टांटानगर और छोटा टाइगर, दिरिहासा, मंझरी ब्लॉक ने जूनियर श्रेणी में फाइनल खेला। उत्तेजक मुकाबलों में न्यू स्टार, पूर्णिया तथा बारुगुठलू, टांटानगर ने क्रमशः सीनियर व जूनियर श्रेणी का मुकाबला जीता।

उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए सुश्री मुर्मू ने झारखंड के आदिवासी खेल, सेक्कोर के संरक्षण के लिए टाटा स्टील के प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होने कहा, “मुझे यह देख कर खुशी है कि आदिवासी खेलों के अलावा टाटा स्टील ने स्थायी जीवनयापन, शिक्षा तथा बालिका शिक्षा जागरूकता के क्षेत्रों में अनेक पहलों को शुरु किया है जिसमें इसका मुख्य फोकस जातीयता तथा आदिवासी संस्कृति को बढ़ावा देने पर रहा है। इस क्षेत्र में ये पहलें लोगों के जीवन की गुणवत्ता को बेहतर करने में सहायता करेंगी”।

इस अवसर पर श्री सतीजा ने कहा, “सेक्कोर प्रीमियर लीग आदिवासी खेलों के पुनरुद्धार और संवर्धन की दिशा में एक आरंभिक प्रयास है। टाटा स्टील में हम खेलों को जीवन शैली के रूप में बढ़ावा देते रहे हैं।   

झारखंड के विख्यात क्रिकेट खिलाड़ी इशांक जग्गी उभरते सेक्कोर खिलाड़ियों को प्रेरित करने के लिए उपस्थित थे और उन्होने उनको सेक्कोर को अगले स्तर पर ले जाने के लिए प्रेरित किया।

इस अवसर पर बिरेन भूटा, चीफ, कारपोरेट सोशल उत्तरदायित्व, टाटा स्टील; कृष्णा बोदरा, प्रेसीडेंट, आदिवासी हो महासभा, मानकिस तथा मुंडा; पंचायती राज संस्थानों के सदस्य; आदिवासी हो महासभा के प्रतिनिधि, हो समाज युवा महासभा, एत्ते तुरतुंग पिटिका अखाड़ा, दुपुब दोस्तूर सेक्कोर समिति और आदिवासी एसोसिएशन, मोआमुंड; स्थानीय हितधारक और टाटा स्टील अधिकारी उपस्थित थे।

पिछले टार बरसों से टाटा स्टील ने आदिवासी खेल सेक्कोर को पुनर्जीवित करने के लिए अनेक खेल आयोजन आयोजित किए हैं। सेक्कोर के लिए खिलाड़ियों को तैयार करने के लिए आदिवासी बच्चों के लिए एक सात-दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण प्रोग्राम को 17 अप्रैल 2017 से 08 मई 2017 तक तीन चरणों में नोआमुंडी स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में आयोजित किया गया था।

300 उभरते खिलाड़ियों को सेक्कोर प्रशिक्षण दिया गया था। इस व्यापक सीजन में 120 गांवों के 2,300 से अधिक खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया, जबकि नोआमुंडी व आसपास से 32 टीमों ने 35 लीग मैचों में प्रतिस्पर्धा की। कोल्हान क्षेत्र में 143 टीमों के बीच कुल 294 लीग मैच खेले गए। झारखंड में अपनी तरह के इस पहले आयोजन में कोल्हान क्षेत्र के उत्साही प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।