जुलाई 21, 2016

टाटा नमक का 'नमक के वास्ते' अभियान ने रियो ओलंपिक 2016 के लिए जाने वाले भारतीय एथलीटों का समर्थन किया

राष्ट्रीय:  भारतीय ब्रांडेड नमक बाज़ार में अग्रणी, टाटा नमक ने हाल ही में एक महत्वपूर्ण अभियान ‘नमक के वास्ते’ को शुरु किया जिसका लक्ष्य भारतीय ओलंपिक खिलाड़ियों के लिए जन समर्थन पैदा करना तथा चर्चाओं को प्रेरित करना है। जबकि खेल ऐसी ताकतों को जोड़ने की शक्ति रही है जो देश के नागरिकों को एक करने की सामाजिक तथा आर्थिक बाधाओं का अतिक्रमण करती है, लेकिन भारतीय के रूप में हम अपने केवल कुछ ही खेलों की ओर अपने प्रेम व समर्थन को दर्शाने की कंजूसी करते रहे हैं। अक्सर कृतज्ञ पृष्ठभूमियों से आने वाले हमारे ओलंपिक खिलाड़ियों के न्यूनतम समर्थन के साथ मात्र खेल के प्रति अपने जुनून व देश के प्रति अपने प्रेम के लिए अनथक रूप से देश के लिए पदक जीतने के अपने लक्ष्य की दिशा में प्रयास करते रहते हैं।

'नमक के वास्ते' अभियान को देखें

टाटा नमक ने भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन (आईओए) के साथ भारतीय ओलंपिक दल के एक गर्वीले प्रायोजक के रूप में गठबंधन किया है और कम उत्तेजक खेलों के बारे में जानकारी पैदा करने तथा इस वर्ष रियो में राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों के लिए जन समर्थन जीतने के प्रति समर्पित है। जबकि यह अभियान उनके कठोर परिश्रम, समर्पण, आशा की कथाएं तथा इन सबसे अधिक ओलंपिक में भारत के प्रतिनिधित्व का गर्व को प्रदर्शित करता है, इसका उद्देश्य 1.2 बिलियन लोगों के राष्ट्र में जन समर्थन के अभाव मे बदलाव की शुरुआत करना है। ‘नमक के वास्ते’, टाटा नमक के प्रति उपभोक्ताओं के वर्षों के विश्वास की यात्रा को बनाए रखने का एक कदम आगे बढ़ाने का प्रयास है जिसके लिए अभिनव ब्रांड निर्माण तथा विशिष्ट अभियान किया जा रहा है। यह अभियान शिव थापा, 2012 के ओलंपिक में 19 वर्ष की उम्र में ओलंपिक के लिए योग्यता हासिल करने वाले सबसे युवा भारतीय बॉक्सर; बबिता कुमारी, 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली युवा कुश्ती खिलाड़ी; इंद्रजीत सिंह, 2015 में एशियन एथलेटिक्स प्रतिस्पर्धा में भारत को गोला फेंक में स्वर्ण दिलाने वाले एथलीट और अवतार सिंह, एक जूडो खिलाड़ी जिसने 2016 में दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण जीता, इन जैसों के प्रयासों तथा भारत को वैश्विक स्तर पर प्रतिनिधित्व प्रदान करने वालों का समर्थन करता है। यह अभियान इस माह, एथलीटों की कभी न समाप्त होने वाली भावनाओं तथा जीत के जुनून को दर्शाने वाली वीडियो फिल्मों की श्रंखला के साथ सजीव हुआ। ये वीडियो इस तरह से बनाए गए हैं कि ये सहानुभूति तथा गर्व की भावनाओं को पैदा करते हैं तथा राष्ट्र को इन ऐथलीटों का समर्थन करने के लिए एक करते हैं।

इन प्रेरक नायकों को समर्थन देने में अपनी खुशी का इज़हार करते हुए, सागर बोके, मुखिया – मार्केटिंग, टाटा केमिकल्स (उपभोक्ता उत्पाद व्यवसाय), ने कहा, “पिछले कुछ तीन दशकों से टाटा नमक ने ‘देश का नमक’ होने का दर्जा हासिल किया हुआ है। इसी फलसफे को आगे ले जाते हुए यह ब्रांड राष्ट्र के लिए महत्वपूर्ण विषयों के इर्दगिर्द चर्चाओं को प्रेरित करने में एक भूमिका का निर्वहन करेगा। ओलंपिक पर हमारा अभियान इसी दिशा में एक प्रयास है। ब्रांड टाटा नमक का इरादा राष्ट्र में अपने कनेक्ट, आकार तथा पहुंच के माध्यम से ओलंपिक के लिए समर्थन पैदा करना और रियो के लिए भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले भारतीय ओलंपिक दल के लिए लाखों जयघोष एकत्र करने का है। शिवा थापा, बबिता कुमारी, अवतार सिंह और इंद्रजीत सिंह जैसे लोगों की कहानियां बेहद प्रेरक हैं। इन लोगों के प्रयासों को रेखांकित करना व सम्मान प्रदान करना महत्वपूर्ण है। मैं इनकी कहानियों से प्रेरित व अभिभूत हूँ। हम वैयक्तिक खेलों तथा किसी ओलंपियन के निर्माण में लगने वाले कठोर परिश्रम के प्रति चर्चाओं को पैदा करने और अंत में राष्ट्र के 1.2 बिलियन लोगों के जयघोष में नागरिक किस तरह से योगदान दे सकते हैं इसके लिए काम करने का इरादा रखते हैं।”

ब्रांड ने इस अभियान के लिए कम लोकप्रिय चेहरों के साथ गठजोड़ किया है जिसके पीछे इरादा यह है कि उनको अपेक्षित मान्यता व सराहना हासिल हो। ‘नमक के वास्ते’ एक मार्केटिंग अभियान है जिसमें इसके संदेश को जन-जन तक पहुंचाने के लिए डिजिटल मीडिया, रेडियो, टीवी तथा सक्रियता को अपनाया गया है। अपने व्यापक वितरण आधार के माध्यम से टाटा सॉल्ट लिमिटेड एडिशन ओलंपिक पैक पूरे राष्ट्र के 7 करोड़ घरों में पहुंचेगा जिसमें इस अभियान में शामिल होने का आह्वान होगा जहां उपभोक्ता एक मिस्ड कॉल दे सकते हैं और भारतीय ओलंपिक दल के लिए अपने समर्थन को दर्ज कर सकते हैं। टाटा नमक डिजिटल, परदे के पीछे के इंफोग्राफ तथा चित्रों की एक श्रंखला को सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर जारी करेगा जिससे कि समर्थन व राष्ट्रीयता के संदेश को बढ़ाया जा सके। कठोर परिश्रमों, आहार योजनाओं व व्यस्त कार्यक्रमों पर फोकस करते हुए पोस्ट उनकी उपलब्धियों को हासिल करने के इरादे तथा सपने सच होने, जयघोष करते लोगों की भीड़, विदेशी भूमि पर भारतीय ध्वज उठाने में सक्षम होने वाले चैम्पियन के रूप में तथा देश व अपने लिए सम्मान अर्जित करने में सक्षम होने को शोकेस करेंगी। ये एथलीट उन एकता व सत्यनिष्ठा के मूल्यों के सच्चे प्रतीक हैं जिन पर टाटा नमक विश्वास करता है। इसके बाद ओलंपिक तथ्यों, प्रख्यात हस्तियों द्वारा ओलंपिक पर चर्चाएं आदि जैसे कार्यक्रमों की श्रंखला होगी। 

इस अभियान के बारे में बोलते हुए, विक्रम मेनन, अध्यक्ष तथा देश के मुखिया, ओगिल्वी वन इंडिया ने कहा, “भारतीयों की एक विशाल संख्या उन ओलंपिक खिलाड़ियों का समर्थन नहीं करती है या उनको जानती तक नहीं है इस वैश्विक प्लेटफार्म पर भारत का प्रतिनिधित्व करते हैं। हम सभी अपने लोकप्रिय खिलाडियों को नाम व उनकी पृष्ठभूमियों के बारे में जानते हैं लेकिन हममें से कितने वास्तव में ओलंपिक खिलाड़ियों के नाम, उनके खेल, पृष्ठभूमि, उनकी चुनौतियां व कठिनाइयां जानते हैं? इन ओलंपिक खिलाड़ियों ने जबरदस्त बलिदान किए हैं और हमारे देश के प्रतिनिधित्व के योग्य बने हैं, जो कि करोड़ों लोगों में 1 व्यक्ति होते हैं जो उस बेहद कम जाने गए खेल में बेहतरीन होते हैं। इस अभियान पर विचार की शुरुआत इस जरूरत के साथ हुई कि इन ओलंपिक खिलाड़ियों की यात्रा के लिए समर्थन तथा भारत के प्रतिनिधित्व के लिए उनके जयघोष की आवश्यकता है। टाटा नमक के साथ साझीदारी करते हुए तथा उन डिजिटल वीडियो की श्रंखलाओं के निर्माण करने में हमें बेहद खुशी हासिल हुई है जिनका लक्ष्य हमारे दर्शकों को इन एथलीटों की कहानियों की जानकारी देना तथा ओलंपिक के लिए उनकी यात्रा में समर्थन के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना है।”

अभियान के एक हिस्से व इसके निष्पादन के लिए शोध व विकास आवश्यक था। टाटा नमक ने भारत के ओलंपिक कोशेंट सर्वेक्षण को भी जारी किया है जो भारतीय दर्शकों की ओलंपिक में संलिप्तता का आंकलन करता है तथा इसी के इर्दगिर्द चर्चाओं को शुरु करने का लक्ष्य रखता है। 17 जुलाई 2016 को आयोजित टाटा नमक, ‘दी ग्रेट इंडिया रन: जीत हर कदम पर; का टाइटिल प्रायोजक भी था जो कि खेल भावना तथा रियो में भारतीय ओलंपिक खिलाड़ियों के लिए जन समर्थन की प्रतीक थी। इन परस्पर संवादात्मक पहलों का लक्ष्य देश के लिए अधिकतम प्रोत्साहन पैदा करना, उभरते खिलाड़ियों के बारे में जागरूकता फैलाना और क्रिकेट के अलावा दूसरे खेलों में रुचि को बढ़ावा देना है।

अपना समर्थन दर्शाने के लिए हमारे वीडियो को लाइक, शेयर व रीट्वीट करें:

यू-ट्यूब- https://www.youtube.com/watch?v=OIjRWPPv6EQ
फेसबुक- https://www.facebook.com/TATASaltDeshKaNamak/videos/602056349975022/
ट्विटर- https://twitter.com/_deshkanamak/status/753210591783874562
सर्वेक्षण- https://www.surveymonkey.com/r/TataSaltIndiasOlympicQuotient