मई 26, 2016

टाटा केमिकल की वित्तीय वर्ष15-16 की चौथी तिमाही के लिए परिचालनों से हुई समेकित आय रु.520 करोड़ रही जो कि 26 प्रतिशत अधिक है

  • चौथी तिमाही के लिए समेकित राजस्व, 7 प्रतिशत बढ़ कर रु.4,007 करोड़ रहा और पीएटी रु242 करोड़ रहा
  • Reरु10 प्रति शेयर के लाभांश की अनुशंसा की गयी

टाटा केमिकल्स ("कंपनी") ने आज पूरे वर्ष (वित्तीय वर्ष15-16) तथा 31 मार्च 2016 को समाप्त हुई चौथी तिमाही के लिए समेकित वित्तीय परिणामों की घोषणा की। वित्तीय वर्ष15-16 में कंपनी ने समेकित आधार पर परिचालनों से रु.17,708 करोड़ की आय को रिपोर्ट किया, जो कि पिछले वर्ष की समान अवधि की आय से 3 प्रतिशत अधिक और स्टैंडअलोन आधार पर की रु.10,650 करोड़ के साथ 6 प्रतिशत अधिक रही। 31 मार्च को समाप्त हुई तिमाही के लिए कंपनी ने परिचालनों से रु.4,007 करोड़ की आय तथा रु520 करोड़ के ईबीआईटीडीए को रिपोर्ट किया जो कि 26 प्रतिशत अधिक रहा; परिचालनों से स्टैंडअलोन आय 7 प्रतिशत बढ़ कर रु.2,268 करोड़ रही जबकि ईबीआईटीडीए 14 प्रतिशत बढ़ कर रु.186 करोड़ रही।

स्टैंडअलोन वित्तीय वर्ष15-16 की चौथी तिमाही

  • भारत में सोडा ऐश तथा नमक ने पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर प्रदर्शन देना जारी रखा।
  • कृषि तथा उपभोक्ता पोर्टफोलियो ने उच्च शुद्ध राजस्व हासिल किए।
  • उपभोक्ता पोर्टफोलियो के राजस्व पिछले वर्ष से 15 प्रतिशत अधिक रहे।
  • 31 मार्च 2016 को प्राप्त सब्सिडी रु.1,902 करोड़ रही।
  • एफओएस आधारित निरुपणों को सफलतापूर्वक 92 शहरों में जारी किया गया।

समेकित वित्तीय वर्ष15-16 की चौथी तिमाही

  • मगाडी परिचालनों से लाभप्रदता बेहतर होना जारी।
  • अंतिम तिमाही में यूएस उत्पादन वापस अपने रास्ते पर।
  • यूरोप परिचालनों ने ऊर्जा व्यवसाय तथा बेहतर उत्पाद मार्जिन में सुधरा प्रदर्शन किया।
  • खराब मौसमी स्थितियां, कमजोर उपज और मुख्य फसलों की कम कीमत से रैलिस इंडिया का प्रदर्शन प्रभावित हुआ।

व्यवसाय के लिहाज से प्रदर्शन

जीवन के लिए जरूरी उत्पाद

  • टाटा केमिकल्स ने राष्ट्रीय ब्रांडेड नमक सेगमेंट में बाजार लीडर बने रहना जारी रखा।
  • ब्रांडेड दालों की बिक्री, पिछले वर्ष की तुलना में 25 प्रतिशत अधिक रही।
  • टाटा संपन्न ब्रांड के अंतर्गत ब्रांडेड मसालों को उत्तर व पूर्वी क्षेत्र में सफलतापूर्वक जारी किया गया, पूरे देश में विस्तार जारी।

उद्योग के जरूरी उत्पाद

  • भारतीय रसायन व्यवसाय ने उच्च राजस्व दर्ज किए।
  • सोडा ऐश बाजार संतुलित रहा।
  • यूएस परिचालनों ने बेहतर वसूली के कारण उच्च परिचालन मार्जिन बनाए रखा।
  • स्टीम टरबाइन की स्थापना के बाद यूरोप में बेहतर परिचालन प्रदर्शन।

खेती के लिए आवश्यक उत्पाद

  • 31 दिसम्बर 2015 को रु.1,577 की तुलना में 31 मार्च 2016 को रु.1,902 करोड़ की सब्सिडी प्राप्त हुई।
  • टीकेएस नेटवर्क में सात राज्यों के 20,000 गाँवों तथा लगभग 1.3 मिलियन किसानों तक सीधी पहुंच बनाने वाले 850 से अधिक केन्द्र शामिल हैं।

लाभांश
कंपनी के निदेशक बोर्ड ने रु10 प्रति शेयर के एक्विटी लाभांश की घोषणा की है

कार्यकारी टिप्पणी
टाटा केमिकल्स के प्रबंध निदेशक, आर मुकुंदन ने कहा, "वित्तीय वर्ष 16-17 के लिए समीक्षित तिमाही, भारतीय परिचालनों के हिस्से के नेतृत्व में सभी व्यवसायों में बेहतर प्रदर्शन के साथ काफी उत्साहजनक रही।

"भारतीय रसायन व्यवसाय में घटी इनपुट लागत के साथ सभी अंतरराष्ट्रीय भौगोलिक क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन ने परिचालन लाभ को समेकित आधार पर 26 प्रतिशत बढ़ाते हुए रु.520 करोड़ तक पहुंचा दिया। हालांकि हम यूके व केन्या की स्थितियों के प्रति सावधान बने रहे। स्टैंडअलोन राजस्व 7 प्रतिशत बढ़कर रु.2,268 करोड़ हो गया और शुद्ध लाभ रु.111 करोड़ हो गया, जिसका कारण भारत में उपभोक्ता व रासायनिक व्यवसाय में बहतर प्रदर्शन रहा है।

"उपभोक्ता उत्पाद व्यवसाय में वृद्धि जारी रही और इसने राष्ट्रीय ब्रांडेड खाद्य नमक बाजार में अपनी अग्रणी स्थिति बनाए रखी। टाटा संपन्न, विशिष्ट बिना पॉलिश वाली दालों ने अपने ग्राहकों को उच्च प्रोटीन प्रदान करना जारी रखा। टाटा संपन्न अंब्रेला ब्रांड में शामिल ब्रांडेड मसालों को पूरे देश में जारी करना जारी रखा गया। ब्रांडेड खाद्य उत्पादों के पोर्टफोलियो के विस्तार पर इस फोकस तथा बढ़े हुई बाज़ार पहुंच ने वित्तीय वर्ष15-16 में उपभोक्ता व्यवसाय के टर्नओवर को रु1,850 करोड़ को पार करने में सहायता की

"रु1,902 करोड़ की शेष सब्सिडी के कारण खाद व्यवसाय पर दबाव जारी रहा।

"आगे बढ़ते हुए हम परिचालन उत्कृष्टता पर फोकस करना जारी रखेंगे तथा खाद्य व्यवसाय की हिस्सेदारी को बढ़ाते रहेंगे।"