इन्डियन स्टील एन्ड वायर प्रोडक्ट्स

इन्डियन स्टील एन्ड वायर प्रोडक्ट्स(आइएसडब्लूपी) की स्थापना 1920 में की गई थी और यह भारत के सबसे पहले वायर ड्रोइंग प्लान्ट्स में से एक था। 1935 में इसका निगमीकरण हुआ था और बाद में 2003 में टाटा स्टील ने इसका अधिग्रहण किया। आज यह कम्पनी वैश्विक स्टील दिग्गज टाटा स्टील की सहयोगी कम्पनी के रूप में कार्य करती है।

आइएसडब्लूपी दो इकाइयां चलाती है– वायर इकाई और स्टील रोल बनाने वाली इकाई। वायर इकाई में एक वायर रॉड मिल और एक वायर मिल होती है। स्टील रोलिंग इकाई कंपनी के ए‍क डिविज़न के तौर पर काम करती है और जमशेदपुर इंजीनियरिंग एन्ड मशीन मैन्यूफैक्चरिंग कम्पनी (जेईएमसीओ) के नाम से जानी जाती है। यह विभाग आधुनिक रोल फाउन्ड्री, अत्याधुनिक मशीन शॉप व उपकरणों से युक्त लैबोरेटरी से लैस है।

व्यापार के क्षेत्र

वायर इकाई विविध प्रकार के लौह और इस्पात उत्पाद बनाती है जिसमें वेल्डिंग इलेक्ट्रोड, गैल्वेनाइज़ किए हुए लौह वायर, कीलें, बार्ब्ड वायर और वायर रॉड शामिल हैं।

जेईएमसीओ एकीकृत इस्पात संयंत्रों के लिए लौह तथा इस्पात के रोल बनाती है और इस्पात के संयंत्रों, बिद्युत संयंत्रों तथा ऑटोमोबाइल उद्योग के लिए इंजीनियरिंग कास्टिंग बनाती है।

स्थल

आइएसडब्लूपी की उत्पादन सुविधाएं भारत में जमशेदपुर में स्थित हैं।

यह प्रोफाइल नवम्बर 30, 2013 को 19:49 भारतीय मानक समय पर अद्यतन किया गया था।
अधिक जानकारी के लिए कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट देखें (वेबसाइट लिंक इस पृष्ठ पर 'संपर्क' अनुभाग में उपलब्ध है)