नेतृत्व और शिक्षण

टाटा के नेतृत्व विकास कार्यक्रम और प्रशिक्षण प्रक्रियाओं का लक्ष्य है आज के प्रबंधकों को कल के नेतृत्वकर्ताओं के रूप में तैयार करना

अपने लोगों के ज्ञान और नेतृत्व लब्धि में वृद्धि के प्रति टाटा समूह की प्रतिबद्धता के परिणामस्‍वरूप टाटा प्रबंधन प्रशिक्षण केंद्र जैसे संस्थाओं की स्थापना में हुई और टीएएस जैसे कार्यक्रमों संचालित किए जा रहे हैं

टीएएस एक शुरुआती स्तर का प्रवेश कार्यक्रम है जो युवा प्रबंधकों को पेशेवर दक्षता के विकास के विविध अवसर प्रदान करता है और उन्हें उस प्रतिभा समुच्चय का अंग बनाता है जिसका उपयोग टाटा संगठन की कंपनियों द्वारा किया जा सके।

पश्चिम भारत में पुणे स्थित एक हरे-भरे परिसर में स्थापित टाटा मैनेजमेंट ट्रेनिंग सेंटर समूह के कर्मियों (प्रोफेशनल्स) को अपने ज्ञान की वृद्धि में मदद करता है। मूल रूप से समूह के इन-हाउस शिक्षण केन्द्र के रूप में कार्यरत इस संस्था का लक्ष्य है उच्च निष्पादन कर्ताओं को प्रशिक्षण प्रदान करना और परिवर्तन के वाहक के रूप में काम करना।

सेकेंड करियर इंस्पायरिंग पॉसिबिलिटीज एक अनोखा प्रयास है जो अवकाश के बाद रोजगार बाजार में लौटने वाली महिलाओं के लिए अनोखा अवसर सृजित करता है

2002 से शुरू हुआ यह टाटा समूह द्वारा आयोजित एक वार्षिक बिजनस स्कूल कार्यक्रम है। यह चुनिंदा प्रबंध संस्थानों के छात्रों को उज्ज्वलतम प्रतिभाओं के साथ प्रतिस्पर्धा करने और अपनी व्यवसाय प्रतिभा प्रदर्शित करने का अनोखा अवसर प्रदान करता है।