सितम्बर 2017

वोल्टास किस तरह स स्मार्ट और कूल चला

चुनौतीपूर्ण बाजार परिस्थितियों के बावजूद, कंपनी के लिए बेहतरीन काम करने वाले गो-गेटर मनोभाव के साथ वोल्टास ने प्रभावशाली परिणाम पेश किए हैं

कारपोरेट बदलाव कहानियां अक्सर हिम्मत और जीवट के नायकों की कहानियों के रूप में सुनाई जाती हैं। वास्तविकता में हालांकि यह प्रभावी और महत्वहीन से बताए गए रूपांतरण और बेहद कठोर परिश्रम के बारे में है। रचनात्मक समाधानों और साहसी जोखिम लेने को प्रोत्साहित करने वाली लीडरशिप चलित संस्कृति के साथ ये ऐसे कारक हैं जो ग्लेबल इंजीनियरिंग सर्विस कंपनी वोल्टास की प्रभावशाली प्रगति गाथा के पीछे हैं।

वोल्टास की सफलता कंपनी के वित्तीय आंकड़ों और बाजार रैंकिंग में परिलक्षित होती है। पिछले साल (वित्तीय वर्ष 2016-17), वोल्टास ने बेहद प्रतिस्पर्धी रूम-एयरकंडीशनर बाज़ार में लगातार तीसरे वर्ष अपनी लीडरशिप स्थिति बनाए रखी। इसने 5.1 बिलियन के साथ शुद्ध लाभ में 30% वृद्धि को भी रिपोर्ट किया है और लागू पूंजी पर 21% का लाभ (आरओसीई) अर्जित किया है।

संजय जौहरी, प्रबंध निदेशक, वोल्टास ने कंपनी के बेहतरीन प्रदर्शन को इसके गो-गेटर मवोभाव का परिणाम बताया है: "पिछले पांच वर्षों में लीडरशिप संस्कृति बदल गयी है। हमारी लीडरशिप टीमों अब चुनौतियों से डरने की बजाए, मजबूती के साथ परिणामों और नए अवसरों की खोज पर फोकस करती है। इसे करने के साथ हमने टाटा मूल्यों का भी पालन किया है जो हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं।"

इस नए अवसरों पर फोकस करने वाली मानसिकता ने वोल्टास को इस पूरी अवधि में शक्ति प्रदान की है जिसमें सामान्य व्यवसाय को हासिल करने में अलेक बाधाओं का सामना किया गया। उदाहरण के लिए, जब वोल्टास’ को स्थानीय प्रोजेक्ट्स समूह, जो कि कारपोरेट के लिए टर्नकी इलेक्ट्रोमेकेनिकल और एयर कंडीशनर प्रोजेक्ट्स को निष्पादित करने के व्यवसाय में है, निवेश में कमी का सामना कर रहा था, इस टीम ने इंफ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र विशेष रूप से सरकारी परियोजनाओं की ओर ध्यान दे कर रास्ता तलाशा, जो कि उभर रहा था।

वोल्टास कोलकाता व चेन्नई एयरपोर्ट, दिल्ली व चेन्नई के अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों और दूसरे शहरों के साथ दिल्ली, भोपाल व पटना में सरकारों द्वारा बनाए जा रहे नए अस्पतालों में एयर कंडीशनिंग और इलेक्ट्रिकल काम का हिस्सा रही है। वोल्टास 2010 से मध्य प्रदेश और हाल ही में राजस्थान में गांवों को बिजली ग्रिड से अंतिम मील की कनेक्टिविटी भी प्रदान करती रही है।

इस कंपनी’ की औद्योगिर एफ्युऐंट और सीवेज उपचार यूनिट को प्रतिष्ठित नमामि गंगे प्रोजेक्ट के लिए एक अनुबंध हासिल हुआ है जो कि गंगा नदी को साफ व संरक्षित करने का एक एकीकृत मिशन है। “हम इसे लाभदायी रूप से करने में सक्षम रहे हैं जो हमारे स्थानी प्रोजेक्ट्स व्यवसाय के लिए महान उपलब्धि रही है,” श्री जौहरी ने कहा।

यह नया दृष्टिकोण वोल्टास के’ वैश्विक दृष्टिकोण के लिए भी बेहतर काम का रहा है। इलेक्ट्रो-मिकेनिकल प्रोजेक्ट्स (ईएमपी) डिवीजन दुबई, दोहा, मस्कट, सउदी अरब और सिंगापुर में काम करता है और इसके पास कई प्रतिष्ठित परियोजनाओं का श्रेय है। इनमें दुबई में बुर्ज खलीफा, अबूधाबी में विलासी एमिरेट्स होटल, और खाड़ी क्षेत्र के सबसे बड़े मॉल्स में से एक दोहा फेस्टिवल सिटी शामिल हैं।

बढ़ेत तेल मूल्यों के कारण, पांच वर्ष पहले तक मध्यपूर्व में कई सारे अवसर दिखे। जबसे कच्चे तेल के मूल्य में गिरावट शुरु हुई है, खाड़ी की अर्थव्यवस्था को झटका लगा है। “हमने जोखिम और पुरस्कार को संतुलित करना शुरु किया है। हमारे पास अब एक जोखिम मूल्यांकन प्रक्रिया है जिसने हमें अंतरराष्ट्रीय प्रोजेक्ट्स व्यवसाय में बदलाव में सहायता की है। मध्यपूर्व में ईएमपी क्षेत्र में वोल्टास दुनिया की कुछ गिनी चुनी कंपनियों में है जो अभी भी अपने पैरों पर खड़ी है,” श्री जौहरी कहते हैं।

नए ग्राहक

राजनीतिक तथा संरचनात्मक शिफ्ट उनमें से कई क्षेत्रों में बड़ी भूमिका निभाते हैं जहां पर वोल्टास काम करती है, विशेष रूप से निर्माण उपकरण और टेक्सटाइल मशीनरी में।

पिछले कुछ बरसों में खनन व निर्माण उपकरण के स्थानीय बाजार ने गिरावट देखी है जिसका कारण कोयला ब्लॉक आवंटन स्कैम और देश के अन्क हिस्सों में खनन का बंद होना है। हालांकि, वोल्टास टीम ने तत्काल ही नए अवसरों को पकड़ा व उनका लाभ लिया है। “हमारा निर्माण उपकरण बढ़ना जारी रखे है। सड़क निर्माण पर जोर और लोहे के अयस्क की खानों के खुलने के कारण हमें इन संयंत्रों से आदेश मिलने जारी हैं,” श्री जौहरी कहते हैं।

वोल्टास ने 2012 में अफ्रीका में प्रवेश किया, जहां पर ये ब्राज़ील की एक कंपनी द्वारा परिचालित खनन स्थल पर उच्च मूल्य मशीनों के बेड़े का रखरखाव करती है। “मोज़ाम्बीक में हमारे परिचालन टिक पाए हैं और पिछले पांच बरसों में बढ़े हैं। हमें वहां पर हमारे ट्रैक रिकॉर्ड के कारण और अधिक व्यवसाय मिले हैं,” श्री जौहरी कहते हैं।

उतार-चढ़ाव भरे कॉटन मूल्यों और चीन द्वारा कॉटन यार्न आयात में कमीं के बावजूद टेक्सटाइल मशीनरी व्यवसाय यूनिट ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। “स्पिनिंग मशीनरी पहले हमारी मुख्य आधार थी। अब, हमने’ अपने ध्यान को दूसरे प्रकार की टेक्सटाइल मशीनरी पर घुमा दिया है। चुनौतियों के बावजूद स्पेयर्स, ऑक्सिलरी उपकरण और कंस्यूमोबल पर हमारे फोकस ने भी हमें अच्छा करने में सहायता की है,” श्री जौहरी बताते हैं।

कूल कंफर्ट

इस सारी चीजों के साथ, वोल्टास’ का फ्लैगशिप रूम-एयर कंडीशनिंग व्यवसाय कंपनी के लिए गर्व और लाभ का स्त्रोत बना रहा है। यूनिटरी प्रोडक्ट समूह, जैसा कि इसे आंतिरक रूप से कहा जाता है, पिछले तीन बरसों से 21.4% शेयर के साथ मार्केट लीडर रहा है।“भारत मं बिकने वाले हर पांच एयर कंडीशनर में से एक वोल्टास का उत्पाद रहा है। बहुराष्ट्रीय कंपनियों से होने वाले तगड़े कंपटीशन को देखते हुए यह महत्वपूर्ण है,” श्री जौहरी कहते हैं।

एक बहु-आयामी रणनीति ने ब्रांड को’ इसके घरेलू मैदान पर अधिकार जमाए रखने में मदद की है। इसमें वोल्टास के’ सोर्सिंग नेटवर्क को व्यापक करना, आपूर्ति श्रंखला को मजबूत करना और आक्रामक रूप से वितरण का विस्तार करते हुए बिक्री के लगभग 12,000 बिंदुओं तक विस्तार इसमें शामिल है। इसे शोध आधारित उपभोक्ता अंतःदृष्टियों से समर्थित रखा गया था, जिसके कारण शक्तिशाली विज्ञापन अभियान बना जिसने उपभोक्ताओं के साथ मजबूती से कनेक्ट किया।

इसी बीच, वोल्टास ने 30% से अधिक बाजार हिस्सेदारी के साथ वाणिज्यिक व्यवसाय में अपनी अग्रणी स्थिति को बनाए रखा।“आधुनिक रिटेल, विशेष रूप से फूड चेन्स तेजी से बढ़ेंगी, इसलिए हमारी उत्पाद श्रंखला को व्यापक करने के अतिरिक्त अवसर उपलब्ध रहेंगे,” श्री जौहरी ने कहा।

“कंपनी ने 2015 से भारत के एयर कूलर्स के अधिक बड़े, हालांकि असंगठित क्षेत्र में कदम रखा है। परिचालन के पहले दो वर्षों में कंपनी ने 2,50,000 इकाइयों की बिक्री है, जिसमें आने वाले वर्षों में मांग के बढ़ते रहने की अपेक्षा है।

भविष्य की ओर निगाह

वोल्टास’ की रूम एयर कंडीशनिंग में सफलता ने इसके आत्मविश्वास को प्रतिस्पर्धी उपभोक्ता ड्यूरेबल बाजार में बढाया है। कंपनी ने हाल ही में तुर्की के सबसे बड़े औद्योगिक सेवा समूह, केओसी समूह के हिस्से आर्केलिक एएस की सहायक कंपनी आर्डच बीवी के साथ $100 मिलियन के’ एक संयुक्त उपक्रम पर हस्ताक्षर किया है। यह जेवी भारत में व्हाइट व ब्राउन उत्पादों का विनिर्माण और बिक्री करेगा। आर्केलिक का फ्लैगशिप ब्रांड बेको, पिछले सात वर्षों से यूरोप का सबसे तेजी से बढ़ने वाला घरेलू उपकरण व उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांड है।

यह साझीदारी दोनो साझीदारों की पूरक ताकतों को साथ लेकर आएगी, श्री जौहरी ने समझाया। “आर्केलिक सिद्ध प्रौद्योगिकी प्रदान करती है और वे इन उत्पाद श्रेणियों में अधिकांश यूरोपीय बाजारों में शीर्ष तीन कंपनियों में शामिल हैं। हम भारतीय परिचालन परिस्थितियों की समझ और बिक्री, वितरण, विपणन और उपभोक्ता अंतःदृष्टि में क्षमताओं को साथ लाते हैं। यह शक्तिशाली संयोजन कम से कम हमारे फ्लैगशिप रूम एयर कंडीशनिंग डिवीजन जितने बड़े एक नए व्यवसाय के निर्माण में सहायता करेगा।”

एक स्थानीय विनिर्माण सुविधा की स्थापना की जाएगी और उत्पादों को भारत में विनिर्मित किया जाएगा तथा इसके 2018 के दूसरे छमाही तक बाजार में उतारे जाने की आशा है।

स्थानीय प्रोजेक्ट्स समूह तथा ईएमपी डिवीजन के पास मिलकर 45 बिलियन की मजबूत ऑर्डर बुक है लेकिन अपने कार्य वाले प्रोजेक्ट्स को लेकर कंपनी सावधान है।“हम विवेकपूर्ण ढ़ंग से आगे बढ़ रहे हैं क्योंकि हम जोखिम और पुरस्कार और इच्छित मार्जिन को संतुलित करना चाहते हैं,” श्री जौहरी कहते हैं।

मोज़ाम्बीक में खनन और निर्माण व्यवसाय में टीम के अफ्रीका के दूसरे हिस्सों में बड़े अवसरों की तलाश की भूख को’ तीखा किया है। टेक्सटाइल उद्योग में चल रहे कंसॉलिडेशन के कारण टेक्सटाइल मशीनरी के लिए मांग के भी बढ़ने की आशा है।

इस खेल में आगे बने रहने के लिए, वोल्टास बारी रूप से डिजिटल प्रौद्योगिकी पर निर्भर कर रहा है जो सेवा गुणवत्ता और कार्यकुशलता के बढ़ने में सहायता करेगी। यह कंपनी, मार्च 2015 से देश में अपनी एयर कंडीशनिंग स्थापनाओं को रिमोट तरीके से नियंत्रित करने में प्रौद्योगिकी और इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) के उपयोग में अग्रणी रही है। “जब हम पर्याप्त डेटा एकत्र कर लेंगे तो हम एनालिटिक्स को जरूरी रोकथाम रखरखाव की पूर्वसूचना के लिए उपयोग कर सकेंगे,” श्री जौहरी ने कहा।

चुनौतीपूर्ण साल के बावजूद, वोल्टास ने अपने विभिन्न व्यवसाय पंक्तियों के लिए अपेक्षा से बेहतर परिणाम देने के लिए सफलतापूर्वक अपनी शक्तियों का उपयोग किया है। नेतृत्व तथा कर्मचारी दोनो स्तरों पर यह सकारात्मक मनोभाव आने वाले सालों में और अधिक खुशियां लाएगा।