अप्रैल 2016 | संघमित्रा भौमिक

'काम करने के लिए श्रेष्ठ परिवेश का निर्माण हमारे लिए महत्वपूर्ण लक्ष्य रहा है'

एऑन पुरस्कार समारोह में टाटा कम्युनिकेशंस के सीईओ विनोद कुमार और टाटा कम्युनिकेशंस के सीएचआरओ आदेश गोयल

एऑन सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता 2016 के विजेता टाटा कम्युनिकेशंस के मुख्य मानव संसाधन अधिकारी आदेश गोयल बताते हैं कि को यह जानकर प्रसन्नता हो रही है कि संगठन की नीतियों, कार्यव्यवहारों और संस्कृति को शीर्ष महत्व प्राप्त हुआ।

भविष्य के लिए व्यवसाय अग्रणियों (बिजनस लीडर्स) को तैयार करना और और एक समुचित नेतृत्व का विकास करना संगठन की सफलता के लिए महत्वपूर्ण है, आपने इनमें संतुलन कैसे बनाया?
संगठन में प्रतिभाशाली लोगों का एक सही संयोजन तैयार करने के लिए हमने आंतरिक स्तर पर कई सारे प्रयास किए। हमारी पार्श्व नियुक्तियों का एक तिहाई हमारे आंतरिक जॉब पोस्टिंग कार्यक्रम के जरिए होता है। यह तरीका कर्मचारियों की प्रगति और उनके लिए अवसर के लिहाज से कारगर रहा है; और एक संगठन के रूप में ‘क्रॉस-पॉलिनेशन’ से लाभान्वित होते हैं और अपने प्रतिभा समूह को अपने साथ बनाए रखते हैं।

हम कर्मचारियों को रोमांचक करियर अवसर मुहैया करते हैं जहां वे दो साल के लिए रोचक असाइनमेंट ले सकते हैं, अच्छा शिक्षण ग्रहण कर सकते हैं और फिर से नए अवसरों की तलाश कर सकते हैं। इस व्यापक करियर क्षितिज के साथ हम एक समग्र कार्य परिवेश का निर्माण करते हैं, सहयोग और नवप्रवर्तन को बढ़ावा देते हैं ज्ञान और कौशल का सृजन करते हैं कर्मचारियों को अलग-थलग महसूस कराने की जगह उन्हें तरोताजा और अनुप्रेरित महसूस कराते हैं। वे अपने नेटवर्क के लोगों को या पूर्ववर्ती कार्य के लोगों की अनुशंसा कर सकते हैं और इससे हमें एक नेटवर्क संगठन बनने में मदद मिलती है और इस तरह यह सबके लिए फायदेमंद होता है।

यह पुरस्कार हमारे लोगों के कठिन श्रम तथा प्रतिबद्धता की परिणति है। भारत में हमारे प्रयासों के लिए पहचान पाकर और सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी का पुरस्कार प्राप्त कर एक मजबूत, विविधतापूर्ण और समवेशी कर्यबल के निर्माण हेतु हमारी प्रतिबद्धता की पुष्टि होती है और इसमें योगदान के लिए मैं अपने सभी कर्मचारियों तथा उनके परिवारजनों के योगदानों का धन्यवाद ज्ञापन करते हैं। हालांकि, यह तो बस एक शुरुआत है और हम ऐसे बहुत के पुरस्कारों के हकदार होंगे।

टाटा कम्युनिकेशंस के सीईओ विनोद कुमार

एक संगठन के रूप में आप शिक्षण, विकास और प्रशिक्षण पर कितना व्यय करते हैं?
शिक्षण और विकास हमारी प्रमुख प्राथमिकताएं रही हैं। हमारे हालिया आंतरिक सर्वेक्षण में कर्मचारियों ने हमें संगठन के अंदर शिक्षण और विकास के अवसरों पर बहुत ही सकारात्मक प्रतिक्रिया दी।

रणनीति के लिए नवप्रवर्तन हमारा एक अन्य प्रयास है और हम यह देखकर खुशी महसूस करते हैं कि वैश्विक स्तर पर हमारे कर्मचारी इस अभिगम के महत्व को समझते हैं और भाग लेते हैं। शिक्षण और विकास के लिए व्यक्तिगत जिम्मेदारी को बढ़ावा देने का हमें गर्व है। कर्मचारियों को उनके स्व-संचालित प्रशिक्षण के लिए पंजीकृत होने देखना दिलचस्प है और कोई भी चीज यदि स्वयं चालित होता है तो उसके बेहतर परिणाम आते हैं।

मौजूदा बाजार परिदृश्य में प्रतिभाशाली लोगों को लेने और उन्हें अपने साथ बनाए रखने के संदर्भ में आपको किन प्रमुख चुनौतियों का समाना करना पड़ता है?
लगातार तीन साल तक हम गार्टनर मैजिक क्वाड्रंट में अग्रणी बने रहे इसलिए हम नियुक्ति के लिहाज से प्रतिभा बाजार में प्रतिस्पर्धी बने रहे हैं। हमारा एट्रीशन रेट (संघर्षण दर) इंडस्ट्री के औसत से कम है और हमें अपने प्रतिभाशाली लोगों, कर्मचारियों और अपने सर्वश्रेष्ठ निष्पादकों को अपने साथ बनाए रखने और उनका संवर्धन करने पर गर्व है।

प्रतिभाओं को अपने साथ बनाए रखने और नई प्रतिभा को आकर्षित करने हेतु अग्रणी रहने में मदद के लिए हम अपने शोध और विश्लेषण से सीखते हैं। टाटा विश्वास से जुड़ा है और इसकी ब्रांड प्रतिष्ठा बहुत मजबूत है। भारत के बाहर के लोगों को हो सकता है टाटा ब्रांड के बारे में अच्छी तरह पता न हो लेकिन जिन कर्मचारियों को हम नियुक्त करते हैं वे तो इससे पूरी तरह वाकिफ होते हैं।  हम वैश्विक स्तर पर अपनी ब्रांड जागरुकता के निर्माण के लिए काम कर रहे हैं और इसमें कुछ समय लगेगा।  

दूसरी चुनौती है कि अपने रूपांतरण के एक अंग के रूप में हम टेलीकॉम के अतिरिक्त दूसरे उद्योगों की प्रतिभाओं के विविधतापूर्ण संयोजन को आकर्षित करने का प्रयास कर रहे हैं।

शीघ्र ही हम इन चुनौतियों से निबटने में कामयाब रहेंगे।

श्रेष्ठ कर्मचारी पुरस्कार का यह सफर कितना कठिन है?
संपूर्ण प्रबंधन तथा साथ ही हमारे 9000 कर्मचारियों की प्रतिबद्धता के साथ अच्छे कार्य-परिवेश का निर्माण हमारे लिए कुछ सालों से एक महत्वपूर्ण अनिवार्यता रही है।

भारत में श्रेष्ठ 25 नियोक्ता के रूप में पहचान बनाना हमारे विजन और व्यवसाय नीति के साथ अपनी प्रतिभा को कायम रखने और उसका संवर्धने और कर्मचारियों को जोड़े रखने केक सुगठित और केन्द्रित प्रयास का साक्ष्य है। यह जानकर प्रसन्नता होती कि संगठन की नीतियों, कार्यव्यवहारों और संस्कृति को अन्य सैकड़ों संगठनों के बीच शीर्ष महत्व प्राप्त हुआ है।

कौन सी बात है जो टाटा कम्यूनिकेशंस को सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता बनाती है?
टाटा कम्यूनिकेशंस में हम व्यवसाय परिणामों को हासिल करने के लिए निष्पादन आधारित संस्कृति विकसित करने को प्रतिबद्ध हैं जो लोगों को लेकर हमारे प्रभावी कार्य-व्यवहारों को सही मायने में दर्शाता है। हमारे परिचालनों के विस्तार के मद्देनजर हमारे लिए लोगों के संदर्भ में अपनी रणनीतियों का निर्माण करना जरूरी है जो व्यवसाय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए समय की मांग है और समीचीन है।

हमारे सुसंगत प्रयास का उद्देश्य हमेशा यह सुनिश्चित करना रहा है कि हमारे सभी कामों में व्यवसाय का सर्वोत्तम कार्य-व्यवहार परिलक्षित हो और साथ ही हमारे कर्मचारियों को शिक्षण और विकास के अवसरों, पुरस्कारों और सम्मानों, कार्य प्रक्रियाओं और समावेशी एवं अनुप्रेरित कार्यबल के निर्माण के जरिए अपने कर्मचारियों को सशक्तिकरण प्रदान किया जाए।

टाटा एआईए लाइफ इंश्योरेंस, टाटा ऑटोकॉम्प सिस्टम्स, टाटा केमिकल्स और टाटा कम्युनिकेशंस को एऑन सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता पुरस्कार 2016 से सम्मानित किया गया। मानव संसाधन विभाग के प्रमुख ने उन श्रेष्ठ व्यवहारों के बारे में बताया, जो हर कंपनी के लिए इस पुरस्कार को जीतने में सहायक हैं। और पढें:
अवलोकन: लोगों को प्राथमिकता देना
'सुखी कार्यबल महत्वपूर्ण है' — क्रिस्टील भेसानिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष तथा मानव संसाधन प्रमुख, टाटा एआईए लाइफ इंश्योरेंस
टाटा ऑटोकॉम्प बदलावों के दौर में है और सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त करता है — सीबा सत्पथी, अध्यक्ष (लोक & संलग्नता) तथा सीएचआरओ, टाटा ऑटोकॉम्प
रूपांतरण प्रक्रिया में सबसे ऊपर' — आर नंदा, मुख्य मानव संसाधन अधिकारी, टाटा केमिकल्स