अप्रैल 2016 | संघमित्रा भौमिक

रूपांतरण प्रक्रिया में सबसे ऊपर

टाटा केमिकल्स टीम और आर नंदा (बाएं से चौथे), मुख्य मानव संसाधन अधिकारी, टाटा केमिलक्स- एऑन सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता पुरस्कार के साथ

संगठन के वस्तु केंद्रित व्यवसाय से ग्राहक एवं ब्रांड केन्द्रित व्यवसाय के ओर रूपांतरण के संदर्भ में टाटा केमिकल्स के मुख्य मानव संसाधन अधिकारी आर नंदा tata.com को बताते हैं कि वह इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि कंपनी का लोक-उन्मुख संस्कृति कंपनी को लंबी अवधि के लिए सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता बनाए रखेगी।

भविष्य के लिए बिजनस लीडर तैयार करना और एक बेहतरीन नेतृत्व विकसित करना किसी भी संगठन की सफलता के लिए महत्वपूर्ण होता है। आप इस संतुलन को कैसे साधते हैं?
स्प्रिंग बोर्ड, टाटा केमिकल्स (टीसीएल) का समेकित प्रतिभा प्रबंधन कार्यक्रम नेतृत्व एवं विशेषज्ञता युक्त करियर मार्ग के लिए उच्च क्षमता वाले प्रबंधन और उत्तराधिकार प्रबंधन का संयोजन करते हैं। यह उच्च क्षमता युक्त कर्मचारियों की पहचान करने का एक संरचित बहु-स्तरीय प्रक्रिया है और उनकी क्षमताओं के निर्माण के लिए काम करती है। कंपनी में प्रमुख प्रतिभा समुच्चय के लिए हमारे पास व्यक्तिगत विकास की योजनाएं हैं जो अनुभव, संपर्क और शिक्षा (एक्सपीरियंस, ऐक्सपोजर और एजुकेशन) के 3E ढांचे पर आधारित है। ये योजनाएं कर्मचारियों, प्रबंधक और एचआर सहयोगी द्वारा सह-निर्मित हैं तथा इनमें से प्रत्येक इसके क्रियान्वयन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

नेतृत्व विकास के एक अंग के रूप में, कर्मचारियों को टाटा एमर्जिंग लीडर्स, टाटा ग्रुप एक्जीक्यूटिव लीडरशिप प्रोग्राम, टाटा कॉरपोरेट गवर्नेंस प्रोग्राम, टाटा सीनियर लीडरशिप प्रोग्राम, स्टैनफोर्ड मैनेजमेंट कोर्सेस तथा हमारे आंतरिक प्रबंधन विकास कार्यक्रम जैसे विभिन्न कार्यक्रमों के लिए मनोनीत किया जाता है। वरिष्ठ लीडरशिप विकास के लिए द्वि-वार्षिक वरिष्ठ प्रबंधन बैठक और ग्लोबल लीडरशिप बैठकों का आयोजन समकक्ष नेटवर्किंग तथा ज्ञान के साझाकरण के लिए एक माध्यम के रूप में किया जाता है। साथ ही, वरिष्ठ प्रबंधकों के विकास प्रयास के रूप में एक नियमित मल्टी रेटर फीडबैक प्रणाली का गठन किया गया है।

सालों के दौरान, केन्या, सिंगापुर आदि में प्रतिनियुक्ति, नए व्यवसायों आदि जैसी हमारी आंतरिक पाइपलाइन से नए व्यवसायों/भौगोलिक प्रदेशों के लिए हमारी जरूरतों का एक महत्वपूर्ण भाग को सेवा प्रदान कर पाए और नए बिजनस की पूर्ति आंतरिक रूप से की गई।

एक संगठन के रूप में आप शिक्षण, विकास और प्रशिक्षण पर कितना व्यय करते हैं?
हम इस बात पर मजबूती से विश्वास करते हैं कि वे लोग जो टाटा केमिकल्स में प्रथम आते हैं वे सभी भौगोलिक क्षेत्रों तथा संस्कृतियों में कंपनी की प्रगति के पीछे के मूल ताकत हैं।

इनसेप्ट (इनडक्शन कोर्स फॉर एनेबलिंग पॉजिटिव ट्रैक्शन) कार्ययोजना के अंतर्गत, नए कर्मचारियों को ऑनबोर्डिंग और कर्षण की एक ढांचागत प्रक्रिया से लिया जाता है। ई-शिक्षण मॉड्यूल, कार्यिक कर्षण तथा नेतृत्वकर्ता टीम के साथ संवाद इस प्रक्रिया के महत्वपूर्ण संरचनात्मक खंड हैं।

औसतन, हर कर्मचारी वर्ष में 40 घंटों के प्रशिक्षण से गुजरता है और कक्षा प्रशिक्षण के एक महत्वपूर्ण भाग में कार्यात्मक क्षमता निर्माण कार्यक्रम सम्मिलित हैं।  कक्षा प्रशिक्षण के अतिरिक्त, कर्मचारियों को अन्य विभिन्न तरह की विकासात्मक गतिविधियों में सम्मिलित किया जाता है, जैसे भूमिका परिवर्तन, परियोजनाएं, प्रतिनियुक्ति, स्ट्रेच असाइनमेंट तथा सेमिनार और सम्मेलनों के जरिए संप्रेषण, पेशेवर निकायों की सदस्यता हासिल करना तथा उद्योग और अकादमिक निकायों के साथ सहभागिता करना। कर्मचारियों को विकासात्मक लक्ष्य हासिल करने के लिए दो वर्ष तक का अध्ययन अवकाश लेने की सुविधा उपलब्ध है और कर्मचारियों के शिक्षण के लिए वित्तीय सहायता भी उपलब्ध कराई जाती है। कर्मचारियों को काम के दौरान सीखने के लिए ऑनलाइन तथा मोबाइल शिक्षण प्लेटफॉर्म जैसे स्किलसॉफ्ट तथा क्विजबिज भी उपलब्ध हैं।

प्रबंधकीय क्षमता निर्माण की दिशा में, टीसीएल के पास अपना आंतरिक फ्लैगशिप मॉड्यूल है जिसे मैनेजमेंट डेवलपमेंट प्रोग्राम कहा जाता है। इस 21 दिवसीय प्रोग्राम में तीन मॉड्यूल सम्मिलित हैं, और इसे प्रमुख प्रबंधकीय दक्षताएं विकसित करने, उन्नति की संस्कृति को रफ्तार देने, परस्पर-संबद्धता तथा कार्यस्थल पर बहु-विषयक ज्ञान को प्रयुक्त करने के हिसाब से डिजाइन किया गया है। इस पाठ्यक्रम को हर वर्ष परिकल्पित तथा संशोधित किया जाता है, जिसमें व्यावसायिक नेतृत्वकर्ताओं प्राप्त राय को  प्रमुख बिजनेस स्कूलों के अकादमी सदस्यों तथा औद्योगिक विशेषज्ञों के माध्यम से कार्यान्वित किया जाता है। इसके अलावा, इसमें प्रमुख नेतृत्वकर्ताओं तथा इन-हाउस विषय-विशेषज्ञों के अनुभव आदान-प्रदान सत्रों से प्राप्त सुझावों को भी सम्मिलित किया जाता है। इस कार्यक्रम के नौ संस्करण पूर्ण हो चुके हैं और आज हमारे पास लगभग 250 एमडीपी स्नातकों का एक समूह मौजूद है जो उच्च-स्तरीय प्रबंधकीय उत्तरदायित्व संभालने के लिए तैयार है।  एमडीपी में कर्मचारियों का नामांकन एक स्थिति निर्णय सतत मूल्यांकन प्रक्रिया द्वारा किया जाता है। जो इस प्रक्रिया में उत्तीर्ण हो जाते हैं, उन्हें इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया जाता है।  

कैटलिस्ट कार्यक्रम के अंतर्गत आंतरिक प्रशिक्षकों को संवारने पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है, जिससे काफी मात्रा में इन-हाउस विषय-विशेषज्ञ तैयार किए जा सकें। बेहतर शिक्षण प्रदान करने के लिए कई प्रकार की शिक्षण प्रविधियों जैसे व्यवसाय सिम्यूलेशन तथा गेमीफिकेशन* की खोज की जा रही है।

मौजूदा बाजार परिदृश्य में प्रतिभाशाली लोगों को लेने और उन्हें अपने साथ बनाए रखने के संदर्भ में आपको किन प्रमुख चुनौतियों का समाना करना पड़ता है?
प्रतिभा अर्जन के क्षेत्र में टाटा केमिकल्स एक बेहद मजबूत ब्रांड है। हम लक्षित प्रतिभा समूह में से कॉरपोरेट एक्जीक्यूटिव बोर्ड के वार्षिक कर्मचारी मूल्य संस्थापन सर्वेक्षण में भाग लेते हैं। हम कॉरपोरेट के अनुकूलित बेंचमार्क में से श्रेष्ठ 5 संगठनों में लगातार बने हुए हैं। इसके अलावा, हमारी वार्षिक छोड़ने की दर भी एक अंक में है, जो इस उद्योग के अन्य खिलाड़ियों की अपेक्षा काफी कम है।

तथापि, हमारे लिए दूरस्थ क्षेत्रों में स्थित स्थलों जैसे मीठापुर, बबराला तथा हल्दिया में युवा कार्यबल को आकर्षित करने तथा बनाए रखने की क्षमता अर्जित करना अब भी एक चुनौती है। हमें उम्मीद है कि हमारे सेक्टर में प्रतिभा के लिए यह संघर्ष भविष्य में और ज्यादा कठिन होगा और हम मिलेनियल कर्मचारियों को आकर्षित करने और बनाए रखने के लिए ठोस कदम उठा रहे हैं और अपनी नीतियां इस प्रकार अनुकूलित कर रहे हैं जो एक बहु-पीढीय कार्यबल के लिए सुसंगत हो सके।

श्रेष्ठ कर्मचारी पुरस्कार का यह सफर कितना कठिन है?
एऑन बेस्ट इम्प्लॉयर्स इंडिया स्टडी, जो बिजनेसवर्ल्ड तथा ब्लूमबर्ग टीवी इंडिया की सहभागिता में आयोजित है, के तहत 12 उद्योगों की 113 कंपनियों को सम्मिलित किया गया है, जिसमें कुल मिलाकर लगभग 9,50,000 कर्मचारी नियोजित हैं। कंपनियों का चयन तीन चरणों वाली प्रक्रिया द्वारा किया गया है।

इस प्रक्रिया के पहले चरण में, हमारे कर्मचारी नियोजन सर्वेक्षण (एक्सप्रेस) स्कोर को कर्मचारी नियोजन और संतुष्टि की एक माप के रूप में स्वीकार किया जाता है। 2015 में, हमारा वार्षिक नियोजन स्कोर 70 प्रतिशत था। इन स्कोर के आधार पर, हमें  श्रेष्ठ नियोक्ता के अध्ययन हेतु आवेदन के लिए आमंत्रित किया गया और एक विस्तृत आवेदन दाखिल किया गया। मूल्यांकन के अगले चरण में, हमारे एमडी आर मुकुंदन के साथ एऑन की वरिष्ठ नेतृत्वकर्ता टीम ने साक्षात्कार किया, और व्यवसाय तथा जन-संदर्भ में उनके दृष्टिकोण को समझा। मूल्यांकन के अंतिम चरण में, एऑन टीम द्वारा एक स्थल दौरा आयोजित किया गया और हमारे एचआर व्यवहार की जानकारी प्राप्त की गई तथा हमारे जन-व्यवहारों को मान्यता प्रदान करने के लिए कर्मचारियों के साथ एक विशेष केंद्रित समूह-परिचर्चा का आयोजन किया गया। अंतिम रूप से, सम्मानित पैनल सदस्यों के एक निर्णायक मंडल द्वारा, जिसमें उद्योग विशेषज्ञ तथा अकादमिक सदस्य सम्मिलित हैं, हर प्रकार के व्यवहार का मूल्यांकन किया गया।

टाटा केमिकल्स को कौन सी चीज श्रेष्ठ नियोक्ता बनाती है?
एऑन हेविट (इंडिया) के प्रतिभा तथा प्रदर्शन परामर्शदाता, तरनदीप सिंह कहते हैं, “शिक्षण और परिवर्तनीयता के द्वारा प्रतिभा विकास में टाटा केमिकल्स के निवेश ने इस उद्योग में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। संवृद्धि दर को देखते हुए, इस प्रकार के प्रयास इस उद्योग में दुर्लभ हैं। तथापि, टाटा केमिकल्स अपनी प्रतिभा में निवेश करना, एक सहायक कार्य परिवेश बनाना और लोगों के प्रति मजबूत प्रतिबद्धता सृजित करना जारी रखते हैं।”  

यह वक्तव्य प्रेरणास्पद है तथा हमें अपनी मूलभूत क्षमताओं को पहचानने, उच्च औद्योगिक बेंचमार्क स्थापित करने तथा कहीं बेहतर कर्मचारी प्रयास तथा व्यवहार के लिए कार्य करने में सहायक है। हमें ज्ञात है कि हमें एक लंबी दूरी तय करनी है क्योंकि हम खुद को एक व्यापक वस्तु केंद्रित व्यवसाय से एक उपभोक्ता तथा ब्रांडेड कृषि तथा पोषण समाधान व्यवसाय में परिवर्तित कर रहे हैं।

हमारी परिवर्तन प्रक्रिया के तहत हम अन्य महत्वपूर्ण बदलावों पर ध्यान देंगे और साथ ही अपने सांस्कृतिक मूल्यों तथा मानवता की भावना का संरक्षण करेंगे जो हमेशा से टाटा केमिकल्स की पहचान रहे हैं। हम समझते हैं कि बाहरी जगत लगातार परिवर्तनशील है विरल राह चुनते हैं तो इसमें नई चुनौतियां उभरेंगी। तथापि, हम आश्वस्त हैं कि हमारे अनवरत प्रयासों, कार्यप्रणाली को सही करने की तत्परता, और एक अधिक लोक-केंद्रित संगठनात्मक संस्कृति बनाने पर लगातार ध्यान देकर, हम लंबे वक्त तक एक श्रेष्ठ नियोक्ता बने रहेंगे।

टाटा एआईए लाइफ इंश्योरेंस, टाटा ऑटोकॉम्प सिस्टम्स, टाटा केमिकल्स और टाटा कम्युनिकेशंस को एऑन सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता पुरस्कार 2016 से सम्मानित किया गया। मानव संसाधन विभाग के प्रमुख ने उन श्रेष्ठ व्यवहारों के बारे में बताया, जो हर कंपनी के लिए इस पुरस्कार को जीतने में सहायक हैं। और पढें:
अवलोकन: लोगों को प्राथमिकता देना
'सुखी कार्यबल महत्वपूर्ण है' — क्रिस्टील भेसानिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष तथा मानव संसाधन प्रमुख, टाटा एआईए लाइफ इंश्योरेंस
टाटा ऑटोकॉम्प बदलावों के दौर में है और सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त करता है — सीबा सत्पथी, अध्यक्ष (लोक & संलग्नता) तथा सीएचआरओ, टाटा ऑटोकॉम्प
'काम करने के लिए श्रेष्ठ परिवेश का निर्माण हमारे लिए महत्वपूर्ण लक्ष्य रहा है' — आदेश गोयल, मुख्य मानव संसाधन अधिकारी, टाटा कम्युनिकेशंस