दिसम्बर 2017

'हमारी इलेक्ट्रिफिकेशन यात्रा रूपांतरकारी होगी'

डॉ राल्फ स्पेथ के पास अपने चारों ओर की दुनिया से संतुष्ट रहने के अनेक कारण हैं। जैगुआर लैंडरोवर (JLR) के चीफ एक्जीक्यूटिव ने अपने टर्बो-चार्ज्ड, ट्विन इंजन वाले उपक्रम को 2016-17 के रिकॉर्ड तोड़ने वाले साल के दौरान 604,009 कारों और एसयूवी की बिक्री के स्तर पर पहुंचाया जो कि अब तक दुनिया में जैगुआर और लैंड रोवर कारों वाहनों की सबसे बड़ी बिक्री संख्या है।

वे बिक्री आंकड़े बाद के महीनों में भी उतने ही प्रभावशाली हैं। JLR का उल्लेखनीय निष्पादन चीन और खासकर उत्तर अमेरिका में उसकी बढ़ती मांग के अनुरूर रहा है। अपने ग्लोबल बेस्टसेलर की स्थिति को मजबूत करने के लिए JLR ने केवल यूके में निर्माण करने की अपनी परंपरा से दूर हटने की नीति पर चलने की ठानी। चीन और ब्राजील में निर्माण केंद्र स्थापित हुए और नए प्लांट स्लोवाकिया और ऑस्ट्रिया में बनाए जा रहे हैं।

ध्यान देने वाली बात असाधारण कारों और एसयूवी पेश करते रहने की कंपनी की नवाचार-चालित क्षमता है। JLR का अनोखा इंजन एंटरप्राइज को नई राह पर लेकर जा रहा है जहां इंटरनल कंबसन इंजन को मोबिलिटी के नए रूपों से बदला जा रहा है; कंपनी का भविष्य ऐसे ऑटो लैंडस्केप पर गढ़ा जा रहा है जहां स्वचालित, कनेक्टेड और इलेक्ट्रिफाइड वाहन सड़कों पर राज करेंगे।

क्रिस्टाबेल नोरोन्हा के साथ इस साक्षात्कार में डॉ स्पेथ, जो अब टाटा सन्स के बोर्ड में हैं, कंपनी की बिक्री बढ़ाने वाले कारकों तथा इलेक्ट्रिक कार के उज्जवल भविष्य के बारे में बताते हैं। संपादित अंश:

JLR वे वित्तीय वर्ष 2016-17 में बिक्री और लाभदेयता के लिहाज से एक असाधारण प्रदर्शन दर्ज कराया है। क्या आप बताएंगे कि किन कारणों से यह प्रदर्शन संभव हुआ?
ग्राहकों द्वारा पसंद किए जाने वाले महान उत्पाद हमारी सफलता के मुख्य कारक रहे हैं। हमारी टीम प्रतिभावान लोगों की टीम है और ऐसे उत्पाद पेश करने के लिए वे कठोर परिश्रम करते हैं जो डिजायन और परफॉर्मेंस में अव्वल होते हैं। JLR में अनोखे स्तर के काम हो रहे हैं। किसी एक समय में, अब हम कंपनी के इतिहास की सर्वाधिक संख्या में कारें लॉन्च कर रहे हैं।

जैगुआर F-पेस ने वर्ल्ड कार डिजायन ऑफ द ईयर 2017 तथा वर्ल्ड कार ऑफ ईयर 2017 का सम्मान हासिल कर हमें गौरवान्वित किया है। नया लैंड रोवर डिस्कवरी, रेंज रोवर वेलार और हमारे मौजूदा मॉडलों ने हमारी सफलता में भारी योगदान दिया है। जैगुआर E-पेस, जैगुआर XF, स्पोर्टब्रेक और अगले साल बिक्री के लिए उतारी जाने वाली हमारी पहली इलेक्ट्रिक कार I-पेस जैसी हमारी हालिया घोषित कारों के साथ हमें विश्वास है कि हम नए ग्राहकों को आकर्षित कर सकते हैं तथा और अधिक ग्रोथ हासिल कर सकते हैं।

ब्रिटेन द्वारा यूरोपियन यूनियन (ईयू) से बाहर निकलने की बातचीत शुरू होने के मद्देनजर कारमार्केटर्स की, और खासकर JLR की क्या प्रमुख चिंताएं हैं?
ब्रेक्जिट एक बड़ी चिंता का विषय है। कोई भी नया टैरिफ, चाहे यूरोप को कारों का निर्यात करने या कंपोनेंट्स आयात करने का मामला हो, हमें नुकसान की स्थिति में लाएगा और इसके गंभीर वित्तीय परिणाम होंगे।

साथ ही यदि हम ईयू देशों के कर्मचारी टैलेंट तक आसान पहुंच नहीं रख पाए तो इस कारण भी हमें नुकसान उठाना पड़ेगा। विश्वस्तरीय प्रतिभा को नियुक्त करना ग्रोथ बनाए रखने और बाजार में प्रतिस्पर्धी बने रहने की एक पूर्व-आवश्यकता है।

क्या आप ईयू छोड़ने के बारे में ब्रिटेन में एक और जनमत-संग्रह का स्वागत करेंगे?
ब्रेक्जिट के लिए मतदान से पहले भी हमने ब्रिटिश सरकार से सभी स्तरों पर चर्चा की थी। हमने अपनी स्थिति सामने रखी और उन्हें ब्रिटिश अर्थव्यवस्था में कार उद्योग के महत्व और हमारे व्यवसाय के लिए उन परिणामों को समझने में मदद की जो हमारे लिए सबसे बड़े होंगे।

JLR की स्थिति को स्पष्ट करने के लिए हम परिदृश्य के पीछे से लगातार काम कर रहे हैं। अगला जनमत संग्रह होगा या नहीं यह पूरी तरह ब्रिटिश सरकार और ब्रिटेन के मतदाताओं के अधिकार-क्षेत्र की बात है। आखिरकार परिणाम चाहे जो भी निकले, यह महत्वपूर्ण है कि हम ब्रिटिश लोगों के लोकतांत्रिक अधिकारों का सम्मान करें।

ब्रिटिश सरकार 2040 तक अपने यहां सही डीजल और पेट्रोल कारों को प्रतिबंधित करने को लेकर प्रतिबद्ध है। वाहन उद्योग पर इसका कौन सा व्यापक असर पड़ेगा?
आगे का अभियान हर किसी के लिए बहुत ही चुनौतीपूर्ण है। 2040 की समय सीमा के बारे में सरकार का बयान यह सुनिश्चित करेगा कि हम सरकार, अकादमियों और इंडस्ट्री में स्पष्टता वाले लोगों के साथ काम कर सकते हैं और साथ मिलकर योजना तैयार कर सकते हैं। इलेक्ट्रिफिकेशन की यात्रा पर तो हम पहले से ही निकल पड़े हैं और यह यात्रा रूपांतरकारी होगी। 2020 से सभी नए जैगुआर और लैंडरोवर पूर्ण इलेक्ट्रिक वाहनों के रूप में या हाइब्रिड विकल्पों के साथ उपलब्ध होंगे।

इस संदर्भ में यह बहुत ही महत्वपूर्ण होगा कि सरकार सारी जिम्मेदारी कारनिर्माताओं पर न डाले। हम तो पहले से ही अरबों का निवेश इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए कर चुके हैं। इलेक्ट्रिक वाहन सभी ग्राहकों के लिए पसंदीदा तभी हो सकते हैं जब सरकारें तथा अन्य एजेंसियां उपयुक्त वित्तीय सहायताओं और बड़े पैमाने पर चार्जिंग केंद्र जैसी अवसंरचना स्थापित करने में निवेश के साथ इसमें मदद करें।

ऊर्जा कंपनियों की भी इसमें भूमिका बनती है। दुनिया भर में इलेक्ट्रिक कारों का अपनाया जाना बिना यह सुनिश्चित किए संभव नहीं होगा कि उन्हें चार्ज के लिए बिजली मुहैया करने हेतु किफायती बिजली तक हमारी पहुंच 24-घंटे हो।

JLR के चीनी अभियान को 2013 में शुरू होने के पहले ही झटका लगा। JLR की चीन में प्रदर्शन, चेरी के साथ साझेदारी और उस बाजार के महत्व पर आपका क्या नजरिया है?
हालिया बिक्री दर्शाती है कि चीन में बिक्री की स्थिति सुधर रही है और समय से साथ हम उस बाजार में वृद्धि देखेंगे। चीन हमारे लिए प्रधान महत्व वाला देश है और हमें वैसे उत्पादों और सेवाओं का प्रदायन जारी रखना होगा जिन्हें पारखी चीनी ग्राहक खरीदना चाहते हैं। स्पष्ट रूप से, इसका अर्थ है कि चेरी के साथ हमारा संयुक्त उपक्रम ऐसे उत्पादों के उपलब्ध कराने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

हमारे चांगशु प्लांट में तैयार जैगुआर XFL जैसी कारें बड़ी बेहद सफल रही हैं। यह ऐसी कार है जो खासतौर पर हमारे चीनी ग्राहकों के लिए डिजायन और निर्मित किया गया है, और यह केवल चीन में बनाई जाती है। आने वाले दिनों में ऐसे और भी उत्पाद होंगे।

यह बहुत महत्वपूर्ण है कि चीन में हमारे पास बहुत सही लीडरशिप है, जिस कारण हमने हाल में क्विंग पैन को देश में अपने बिजनस का नेतृत्व संभालने के लिए नियुक्त किया और अपने बोर्ड में शामिल किया है। क्विंग चीन के नागरिक हैं और उनके पास वाहन उद्योग का विशाल अनुभव है। भविष्य में वह JLR के लिए और भी बेहतर परिणाम देने के लिहाज से अत्यंत उपयुक्त स्थान पर हैं।

चीन JLR के इंजन के लिए ब्रिटेन से बाहर पहला प्लांट है। साथ ही, JLR का एक प्लांट ब्राजील में भी है और दूसरा स्लोवाकिया में निर्माणाधीन है। क्या आप इस विस्तार के पीछे निहित तर्क के बारे में थोड़ा बता सकते हैं?
वैश्विक विस्तार सफलता का एक स्वभाविक परिणाम है और वाहन उद्योग के लिए यह सामान्य बात है। विस्तार जारी रखने के क्रम में यह जरूरी था कि कारों का उत्पादन ब्रिटेन के बाहर करने पर ध्यान दिया जाए। बेशक, JLR की आत्मा और ब्रिटेन में है और अभी भी हमारा अधिकतर डिजायन, इंजीनियरिंग और निर्माण का काम वहीं होता है। लेकिन चीन और स्लोवाकिया की हमारी नई फैसिलिटी ग्लोबल मार्केट में हमारी तरक्की के जारी रहते हुए हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

भारत में निर्माण संयंत्र स्थापित करना JLR की योजना में नहीं है। देश के लिए कंपनी की योजनाएं क्या हैं?
भारत हमारे लिए रणनैतिक रूप से महत्वपूर्ण बाजार है, और साथ ही JLR का सेकेंड होम भी। पुणे में, अभी हम लैंड रोवर डिस्कवरी स्पोर्ट और जैगुआर XF जैसी कारों को असेंबल करते हैं। हम आश्वस्त हैं कि वर्तमान बाजार स्थितियों को देखते हुए यह सही रणनीति है।

JLR के इलेक्ट्रिक कारों की ओर बढ़ने के मद्देनजर आप कौन सी चुनौतियों को सामने देखते हैं, खासकर कौशल और निर्माण की क्षमता के मद्देनजर?
बदलाव पर हमारी नजर पहले से है। अच्छी तरह प्रतिस्पर्धा करने के लिए हमें सर्वोत्तम और सबसे बेहतरीन प्रतिभा को अपने व्यवसाय की ओर आकृष्ट करना होगा। इसका अर्थ हुआ कि अधिक संख्या में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर, सॉफ्टवेयर इंजीनियर, प्रोग्रामर, टेक्नोलॉजिस्ट और अन्य प्रत्येक कल्पनीय कौशल से युक्त पेशेवरों को अपने साथ लेना होगा। हम टेक्नोलॉजी कंपनी हैं और यह हमारी कार्यबल में तथा हमारी निर्माण प्रक्रिया में परिलक्षित होती है।

JLR के नए वेंचर कैपिटल शाखा और इनोवेशन हब इनमोशन वेंचर्स राइड-शेयरिंग एंटरप्राइज Lyft में तथा डेलिवरी कंपनी toBoot को निवेश किए हैं। एक अत्यंत फ्लुइड ऑटोमोटिव सिनैरियो के रूप में विकसित होने के लिए इनमोशन से आप कैसी अपेक्षा रखते हैं?
जैगुआर लैंड रोवर इनमोशन एक नया बिजनस है लेकिन रणनैतिक रूप से यह अति महत्वपूर्ण है। इसका मूल उद्देश्य है मोबिलिटी सेवाओं का विकास करना और उनमें निवेश करना। हमें उम्मीद है कि ग्राहकों की आवश्यकताएं इस रूप में बदलने जा रही हैं कि वे अपनी कारों का इस्तेमाल कैसे और कहां करते हैं तथा साथ ही उनके स्वामित्व का रूप क्या है। यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि हमारे पास उन मांगों को पूरा करने के लिए सही उपाय हों।

टाटा मोटर्स द्वारा अधिग्रहीत होने के बाद से JLR का टर्नअराउंड वाहन उद्योग के निकट इतिहास का एक सर्वाधिक उल्लेखनीय गाथा बन गया है। इस सफलता का श्रेय आप किसे देते हैं?
यह एक महत्वपूर्ण सवाल है, खासकर जब अगले साल हम टाटा परिवार के सदस्य के रूप में JLR के दसवें साल का जश्न मनाने वाले हैं। हमारी सफलता का श्रेय सबसे अधिक रतन टाटा को है जिन्होंने हमारी संभावनाओं को देखा और टाटा मोटर्स को इन दोनों महान ब्रिटिश ब्रांडों के अधिग्रहण के लिए प्रेरित किया। टाटा की ओर से मिले इस सहायता, विश्वास और निवेश की बदौलत तबसे हमें कई रूपों में लाभ हुआ है। इसके साथ हमारी टीम के इनोवेशन, कठिन परिश्रम और अग्रणी जज्बे ने मिलकर एक अपराजेय संयोजन का निर्माण किया है।

आपकी नियुक्ति टाटा सन्स में अक्टूबर 2016 में हुई। क्या आपको अपने मनोनयन पर हैरानी हुई? समग्र रूप से टाटा समूह के लिए आप खुद को किस प्रकार का योगदान देने में सक्षम पाते हैं?
टाटा सन्स के बोर्ड नियुक्ति पाकर मैं खुद को अत्यंत सम्मानित महसूस करता हूं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि यह नियुक्ति JLR द्वारा समग्र रूप से समूह के लिए दिए जाने वाले योगदान का सम्मान है और यह JLR परिवार के हरेक सदस्य के योगदान में झलकता है। हम अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने के कृतसंकल्प एवं पूर्ण उत्साही हैं और समूह में मूल्य वर्धन और योगदान करना चाहते हैं। टाटा परिवार का गौरवान्वित सदस्य बनकर हम बहुत लाभान्वित हुए हैं।