अक्तूबर 2017

उन्नति के लिए जन्म

गिलियन मारा, मुख्य अभियंता, ग्रुप लीडर फ्रंटल क्रैश, जैगुआर लैंड रोवर, एक घातक दुर्घटना से उबरकर विजेता बनकर उभरने की अग्निपरीक्षा को याद करती हैं

यह जीवन और मौत की स्थिति थी, सीधे-सीधे मनुष्य और काल के बीच संघर्ष, लेकिन जैसा कि तब 20 वर्ष की रही गिलियन मारा मानती हैं, यह सब बिल्कुल वास्तविक ही था।

आज गिलियन, मुख्य अभियंता हैं, जो जैगुआर लैंड रोवर में ग्रुप लीडर फ्रंटल क्रैश, बॉडी CAE के रूप में कार्यरत हैं, के खाते में और भी कई उपलब्धियां हैं। लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि उनकी सफलता का क्रम 2002 के जीवन-परिवर्तक अनुभव के बाद तेजी से बढ़ा।

गिलियन ने पहले कायाकिंग लिया था, जब वे 15 साल की थीं और स्कूल में थीं। सिर्फ दो साल बाद, वह मनोरंजन के लिए कोचिंग दे रही थीं। “लेकिन 20 वर्ष की आयु में, ” वे कहती हैं, “ मैंने राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में भाग लिया और अपनी पहली अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए क्वालिफाई किया।”

यह उनके खेल कैरियर का सबसे शानदार समय था। गिलियन कहती हैं, “मैं उस वक्त अमेरिका में थी, अपने दोस्त माइक के साथ पहाड़ों के रास्ते एक दिन’ की पैदल यात्रा की दूरी पर खुले में। हमने सूर्यास्त का चित्र लेने के लिए न्यू मैक्सिको के सैंडिया पर्वतमाला की चोटी तक पैदल जाने और फिर वापसी में केबल कार से नीचे आने की योजना बनाई थी। हम एक चौड़े और धीमी ढलान वाले रास्ते पर जा रहे थे, जो इतना आसान था कि मैंने अपने सैंडल भी पहन रखे थे।”

जब वे चलते हुए आगे बढ़े, तो उन्होंने पाया कि पिछले दिनों हुई तेज बारिश ने रास्ते को मिटा दिया है। लंबे समय तक, वे रास्ते से भटक कर चट्टानों पर चढ़ाई करते रहे।

मृत्यु-सम अनुभव

गिलियन कहती हैं, “रात हो रही थी; हम सात घंटों से चल रहे थे, इसलिए मैंने रुकने का फैसला किया। हम दूरी पर केबल कार की व्यवस्था को देख सकते थे और मैंने सुझाव दिया कि हम नीचे जाने के लिए इसका अनुसरण करते हैं।”

यह योजना कुछ ही समय तक कामयाब रही, इसके बाद उनके सामने उभरे हुए कई छोटे चट्टानों से बनी एक खड़ी ढ़ाल वाली चट्टान आ गई। गिलियन आगे कहती हैं, "हमने अपने आपको आश्वस्त किया कि किसी तरह हम चट्टानों के किनारों से होकर नीचे तक पहुंच सकते हैं।"

माइक ने लंबे होने के कारण ऐसा कर लिया, लेकिन गिलियन को यह मुश्किल लगा। एक जगह पर, उसने अपना एक पैर दरार में डाला हुआ था, और दूसरा पैर हवा में था, और वह पैर टिकाने की जगह पाने के लिए चिल्ला रही थी, जब उसे लगा कि उसका हाथ फिसल रहा है। वह खड़ी चट्टान पर से गिरी, और बीच में चट्टानों से टकराती हुई 200 फीट गिरती हुई नीचे आई।

“सात बार लुढ़कने के बाद, आखिरकार मैं रुकी, ” गिलियन कहती हैं। “मैंने माइक को मुझे पुकारते हुए सुना। मैंने जवाब देने की कोशिश की लेकिन मेरे मुंह से कोई आवाज नहीं निकल पाई। तब मैंने अपने शरीर की जांच की। मैंने अपने टखनों और अंगुलियों को हिला-डुला कर देखा। मैंने अपने दांतों के ऊपर जीभ फिराई। मैंने अपनी अंगुलियों से अपने चेहरे और सर की जांच की, यह गर्म और तर था। मुझे लगा कि मैंने बस अपनी खोपड़ी को छुआ है।”

उसके पास पहुंचकर, माइक ने एक टीशर्ट उसकी पिंडली पर लपेटकर बांधी जहां त्वचा का एक चौड़ा हिस्सा उखड़ चुका था, और एक उसके सर पर बांधी। उसने उसे चलने के लिए उठाने का प्रयास किया लेकिन नाकाम रहा। इसलिए वह मदद पाने के लिए उसे छोड़कर आगे बढ़ा।

अब वह बिल्कुल अकेली थी, गिलियन के हृदय में एक ठंडी अनुभूति ने घर कर लिया। सूर्यास्त हो चुका था और उसने महसूस किया कि मकड़ियां उसपर रेंग रही हैं और वर्षा की हल्की बूंदे बरस रही हैं। अपने आपको जगाकर रखने की कोशिश करते हुए, वह एक नर्सरी राइम गाने लगी, टेन ग्रीन बॉटल्स, और तब उसको सुधारकर ए थाउजैंड ग्रीन बॉटल्स तक ले गई, चेतना और बेहोशी के बीच उबरते और डूबते हुए, वह गिनती भूल जाती और फिर से उसे शुरु करती, इसमें घंटों गुजर गए।

एक समय पर आकर तो, उसने पहाड़ों के उस पार एक चमकीली रोशनी देखी, और लगभग पूरी तरह आशा छोड़ दी। लेकिन उसके मन के पीछे एक आवाज फुसफुसाती हुई उसे कह रही थी कि यह उसके जाने का समय नहीं’ है।

लगभग तीन घंटों बाद, वे कहती हैं, “मैंने एक हेलीकॉप्टर की आवाज सुनी और अपने सर के इर्द-गिर्द लपेटी हुई टीशर्ट को खोल लिया और उसे लहराना, चीखना और चिल्लाना शुरु किया। यह उन पांच बचाव टीमों में से एक थी जिन्हें माइक ने संदेश भेजा था और जो पूरी रात मेरी तलाश करते रहे थे।”

जीवित बचने का एक लंबा संघर्ष

सुरक्षित रूप से हवाई बचाव दल के साथ वहां से निकलने के बाद, उन्हें बाद में अपनी चोटों के बारे में पूरी जानकारी मिली। उनकी खोपड़ी टूट चुकी थी, उनकी श्रोणि की हड्डी (चार स्थानों पर) और उनकी गर्दन टूट चुकी थी, और उनकी रीढ़ की हड्डी अपने स्थान से खिसक चुकी थी। उन्होंने अपनी बायीं पिंडली को पूरी तरह क्षत-विक्षत कर लिया था।

उनकी स्थिति गंभीर थी। एक चुस्त-दुरुस्त 20 साला लड़की से, गिलियन ऐसी बन गई, जहां उसको अब फिर से चलना सीखना पड़ता। वास्तव में, शल्यक्रिया से ठीक पहले, उनको यह चेतावनी दी गई थी कि स्वस्थ होने पर भी वे आंशिक रूप से अपंग रह जाएंगी।

शल्यक्रिया ने उन्हें पक्षाघात से बचा लिया, लेकिन डॉक्टरों ने कहा कि उन्हें स्वस्थ होना शुरु करने से पहले कम से कम एक साल अस्पताल में ही रहने की जरूरत है।

उन्हें ठीक उसी प्रकार की चोटें लगी थीं जैसी क्रिस्टोफर रीवी को लगी थी, जो एक अभिनेता था, और जिसने सुपरमैन के रूप में एक सफल सिनेमाई इतिहास बनाया था। बिल्कुल स्वाभाविक रूप से, गिलियन भी अपने चोटों से उबर पाने की अपनी आश्वस्ति के कारण एक सुपरवीमन की ही तरह थी। उंसने अपने आपको बेहतर करने के लिए कठिन प्रयास किए; और मात्र दो सप्ताह बाद ही, वह अपने घर तक उड़ान भर कर जाने के लिए पर्याप्त रूप से स्वस्थ हो गई थी। चार सप्ताह बाद, उसने बैसाखियों और गर्दन पट्टी के साथ विश्वविद्यालय की अपनी कक्षाओं में फिर से जाना शुरु कर दिया, जबकि वह कुछ मिनटों से ज्यादा खड़ी नहीं रह पाती थी।

एक कठिन संघर्ष में जीत

लेकिन पूरी तरह स्वस्थ होने के लिए अभी लंबा सफर तय करना था। वे कहती हैं, “कठिन परिश्रम, दृढ़ता और उम्मीद के साथ, मैंने अपने लिए कुछ लक्ष्य तय किए, और डॉक्टरों को गलत साबित किया।* मैंने दौड़ना सीखने के लिए दो वर्ष का समय लिया; इसके बाद मैंने एक नया लक्ष्य तय किया: अपने देश के लिए अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेना। 2005 में, पहाड़ से गिरने के तीन वर्ष बाद, मैंने अपना यह सपना पूरा किया।”

अपने शरीर और मन को आखिरी हद तक काम में लाते हुए, गिलियन पोडियम तक पहुंची और 2011 में विश्व चैंपियनशिप (ड्रैगन बोट x 2) में कांस्य पदक हासिल किया।

वापस पलटकर देखते हुए, यह तो केवल एक चमत्कार ही लगता है कि गिलियन वापस स्वस्थ और चुस्त-दुरुस्त हो पाई, लेकिन यह उस साहसी महिला के साहस का ही परिणाम था। जिस दुर्घटना से वह पीड़ित हुई, उसने उसे जीवन को एक चुनौती के रूप में देखने में मदद की जिससे उसे निकलना था और जिसे एक उपहार की तरह आनंदपूर्वक जीना था।

वे कहती हैं, “मैं आश्चर्यजनक रूप से सौभाग्यशाली रही कि स्वस्थ हो पाई, लेकिन मुझे औरों की सहायता करनी चाहिए इसलिए मैं पहाड़ पर की उस रात को नजरअंदाज कर सकती हूं।”

अन्य पहाड़ों पर जीत

  • 2007 में PhD की उपाधि प्राप्त की, फिनिट एलीमेंट एनालाइसिस (FEA) का उपयोग करते हुए, यह एक कंप्यूटरीकृत तरीका है जिससे यह अनुमान लगाया जाता है कि कोई उत्पाद किस प्रकार वास्तविक दुनिया के भौतिक प्रभावों का सामना कर पाएगा।
  • 2017 में ऑटोकार्स ग्रेट ब्रिटिश वीमन आयोजन में स्पीकर थी।
  • 2016 में नौका खेकर उत्तर अटलांटिक को पार करने के लिए असमर्थित प्रथम पूर्ण-महिला जत्था की सदस्या रही और रनॉक वीमंस क्रू की भी सदस्या रही।
  • 2016 में TEDx की स्पीकर बनी।
  • स्पाइनल रीसर्च के लिए धन जुटाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय केनो (डोंगी) मैराथन पूरा किया।
  • दो खेलों में ग्रेट ब्रिटेन टीम के लिए प्रतियोगिता में भाग लिया।
  • यूरोपीय चैंपियनशिप में 5 स्वर्णपदक जीते।
  • 2015 में एक अल्ट्रा-एंड्यूरेंस इवेंट जीता।
  • 2014 में एक नॉन-फिक्शन बुक, क्लाइंबिंग बैक का प्रकाशन किया।
  • 2013 में एक स्काई स्पोर्ट्स एथलीट मेंटर बनी।