अक्तूबर 24, 2017

टाटा लिटरेचर लाइव के आठवे संस्करण के लिए तैयार ओ जाएं! दि मुम्बई लिटफेस्ट

विविध लेखन शैलियों के लगभग100 लेखक अपनी-अपनी कहानियां अपने तरीके से कहेंगे – ऐसी कहानियां जो आपको लुभाएंगी, चमत्कृत करेंगी और आपके दिल छू लेंगी

  • लेखकों की इस पंक्ति में शुमार कुछ प्रसिद्ध लेखक हैं- थॉमस फ्राइडमैन, देवदत्त पटनायक, शशि थरूर, मार्कस ड्यू सॉटॉय, एसी ग्रेलिंग, होमी के भाभा, कैथरीन मॅककिनॉन, गैरी श्टेंगार्ट, मोहम्मद युनूस, बोरिया मजूमदार, जीत ताहिल, मुकुल केसवन, शिक विश्वनाथन, टी एम कृष्णा, किरन नागरकर, जेरी पिंटो, तीस्ता सीतलवाड, फ्रैंसिन प्रोज
  • दुनिया भर से शानदार प्रदर्शन
  • चार-दिवसीय समारोह: नवबर 16-19, 2017
  • दो स्थल: एनसीपीए, नरीमन प्वाइंट और पृथ्वी थिएटर, जुहू
  • प्रवेश निःशुल्क है और पहले आओ पहले पाओ आधार पर है

मुम्बई: जल्द ही यह हर वर्ष इसी समय पर आएगा। आने वाले नवम्बर माह में मुम्बई महानगर बहु-प्रतीक्षित वार्षिक साहित्य फेस्टिवल- टाटा लिटरेचर लाइव के शानदार आयोजन का साक्षी बनेगा। दि मुम्बई लिटफेस्ट 2017। अपने हर अगले संस्करण के साथ इस वर्ष का फेस्टिवल अधिक शानदार और बेहतर होने की उम्मीद है, जिसके लिए लगभग 100 लेखकों तथा विचारकों ने चार-दिवसीय साहित्यिक समारोह में भाग लेने के लिए अपनी हामी भर दी है। यह समारोह 16 नवम्बर से 19 नवम्बर तक एनसीपीए नरीमन प्वाइंट तथा पृथ्वी थिएटर जुहू में आयोजित किया जाएगा।

इस फेस्टिवल के 8वें संस्करण में शामिल होने वाले लब्धप्रतिष्ठित रचनाकारों में- तीन बार पुलित्जर पुरस्कार विजेता थॉमस फ्राइडमैन- द वर्ल्ड इस फ्लैट के लेखक; मार्कस डु सॉटॉय, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के गणित के प्रोफेसर, जिन्होंने अपनी पुस्तक- फाइंडिंग मूनशाइन में गणित को मनोरंजक पद्य में बदल दिया; प्रोफेसर अनिल गुप्ता, भारत के अत्यंत क्रांतिकारी व्यक्ति जो बुनियादी स्तर पर रहने वाले समुदायों के लिए लक्षित सामाजिक रूप से प्रासंगिक समाधानों के प्रसार में मदद करते हैं तथा अर्थशास्त्री श्री अरुण शौरी प्रमुख होंगे। इसके अलावा इस समारोह में डैम मार्ग्रेट ड्रैबल- पुरस्कार विजेता उपन्यासकार, जीवनीकार तथा आलोचक; तथा कैथरीन मॅककिनॉन- नारीवादी विदुषी, वकील, शिक्षाविद तथा कार्यकर्ता, जिन्हें यौन उत्पीड़न के क्षेत्र में अपने कानूनी कार्यों के लिए सम्मान की नजर से देखा जाता है, अपनी गरिमामई उपस्थिति दिखाएंगे।

इस फेस्टिवल के संस्थापक तथा निदेशक श्री अनिल धारकर ने कहा, "इसका सबसे मनभावन भाग है संवाद और आख्यान जो इन हस्तियों द्वारा इस समारोह में पेश किए जाते हैं। ये कुशल किस्सागोई और ऊर्जावान बौद्धिक हैं, जिनके अपने जीवन के अनुभव कुछ दिलचस्प कहानियों को भी जन्म दे सकते हैं! उनके साथ संवाद करना आनंदकारी कार्य होता है, आपके नजरिए को चुनौती मिलती है और आपको सीखने को मिलता है। मैंने हर वर्ष फेस्टिवल के इस हिस्से का लुत्फ उठाया है और मुझे पूरा भरोसा है कि इस साल भी कुछ ऐसा ही होने वाला है।”

टाटा संस के ब्रांड कस्टोडियन श्री हरीश भट्ट ने कहा, "विचारकों तथा लेखकों के मुम्बई के इस बहु-प्रतीक्षित वार्षिक अंतर्राष्ट्रीय समागम- टाटा लिटरेचर लाइव की घोषणा करने का टाटा समूह को अत्यंत हर्ष है! दि मुम्बई लिटफेस्ट। अपने 8वें संस्करण में इस समारोह ने कई लेखकों तथा पाठकों को शामिल किया है। हमारा मानना है कि जो कोई भी व्यक्ति इस फेस्टिवल में शामिल रहा है, इस अनुभव से काफी हर्षित हुआ होगा। इस वर्ष शामिल होने वाले लेखकों से ही पता चलता है कि यह समारोह हमारे दर्शकों और हमारे माननीय मेहमानों के लिए कितना रोमांचक होने वाला है।”

इस वर्ष आयोजित होने वाले इस फेस्टिवल में कार्यकर्ताओं से लेकर अकादमिक सदस्यों, नौकरशाहों से लेकर बॉलीवुड के सितारे और कई अन्य हस्तियां अपने चमक बिखेरेंगे। पौराणिक गाथाओं तथा बोर्ड रूम के बीच के डॉट्स को सहजता से जोड़ते हुए श्री पटनायक को देखें।

चाहे आप संख्याओं या तंत्रिकीय जुड़ावों, पौराणिक कथाओं या इतिहास, कॉरपोरेट बातों या सरकारी भाषणों, दुनिया के विचारों अथवा मन के भावों को पसंद करते हों, हमने इसे ढूंढ लिया है– ब्रिटिश नाटककार तथा उपन्यासकार नेल लेशॉन; अभिनेता, निर्देशक तथा नाटककार गिरीश कर्नाड; क्रिकेट कमेंटेटर तथा पत्रकार हर्षा भोग्ले; वाईवी रेड्डी, पूर्व आरबीआइ गवर्नर तथा वृत्तांत रचना ऐडवाइस& डिसेट के लेखक: माइ लाइफ इन पब्लिक सर्विस; सांसद तथा अर्थशास्त्री- जयराम रमेश; लेखक नयनतारा सहगल; सांसद- पी चिदम्बरम; पत्रकार तथा द प्रिंट के संस्थापक- शेखर गुप्ता; गॉक्यूट्बोर लैंजकोर, हंगेरियन भाषा के विद्वान; गैरी श्टेयंगार्ट- व्यंग रचनाओं में विशेषज्ञ एक अमेरिकी लेखक; शिमॉन लेव- इज्राइली कलाकार, लेखक, फोटोग्राफर, क्यूरेटर तथा शोधकर्ता तथा एसवाई कुरैशी- भूतपूर्व चुनाव आयुक्त तथा अनडॉक्युमेंटेड वंडर के लेखक: द मेकिंग ऑफ द ग्रेट इंडियन इलेक्शन।

समारोह की मुख्य बातें
हर साल की तरह इस साल भी दिलचस्प और सूचनापरक वार्तालाप इस समारोह की मुख्य विशेषता होंगी। फिक्शन ऐज फैक्ट में एसी ग्रेलिंग, थॉमस फ्राइडमैन तथा उदय मेहता पोस्ट-ट्रुथ वर्ल्ड में रहने का अर्थ बताएंगे। वर्ड्स ऑफ इंस्पिरेशन सत्र में डेम मार्ग्रेट ड्रैबल, फ्रेडरिक बीगबेडर, ग्रे श्टेयंगार्ट तथा सर्जियो शेफेक अपनी पुस्तकों और उनकी रचना के पीछे की प्रेरणा के ऊपर चर्चा करेंगे। व्हाइ डू शॉर्ट स्टोरीज गेट शॉर्ट श्रिफ्ट? में फ्रैंसिस प्रोज, महेश राव, तेजस्वनी आप्टे-रैम तथा चंद्रदास चौधरी, साहित्यिक दुनिया में लघु कथा के वंशानुक्रम पर चर्चा करेगे।

कैथरीन मैकिनॉन, वृदा ग्रोवर तथा कल्पना शर्मा 'नो मींस नो’ में यौन उत्पीड़न की कानूनी पेचीदगियों पर चर्चा करेंगी। 'को न बनेगा करोड़पति’ में एन राम, आर गोपाल कृष्णन तथा वाईवी रेड्डी इस बात पर चर्चा करेंगे कि क्या स्कैम ही हावी रहेंगे। 100 ईयर्स ऑफ इंडियन स्पोर्ट में बोरिया मजूमदार श्रोताओं को 'आर्टफैक्ट्स’ के जरिए भारतीय स्पोर्ट के इतिहास से परिचय कराएंगी।

अक्षय मुकुल, अरुण शौरी तथा थॉमस लोम हैंसन 'द ऐंग्री टाइड’ में अपने विचार व्यक्ति करेंगे।

'म्यूजियम इन ए डिजिटल एज’ में ईक श्मिट, यूजीन टैन, ट्रिस्ट्रैम हंट तथा तसनीम मेहता परंपरा को सहेजने के तरीके पर चर्चा करेंगे।

टाटा लिटरेचर लाइव! पुरस्कार
अपने आरंभ से, टाटा लिटरेचर लाइव! दि मुम्बई लिटफेस्ट ने नवोदित तथा स्थापित भारतीय लेखको को सम्मानित किया है। दी टाटा लिटरेचर लाइव! लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड भारतीय साहित्य में उल्लेखनीय योगदानों का उत्सव मनाता है। इस पुरस्कार के पूर्व विजेताओं में शामिल हैं- अमिताभ घोष, किरन नागरकर, एमटी वासुदेवन नायर, खुशवंत सिंह तथा सर वीएस नायपॉल। दी टाटा लिटरेचर लाइव! पोएट लॉरेट अवार्ड के तहत कविता के क्षेत्र की अहम रचनाओं को सम्मानित किया जाता है और वर्ष 2016 में यह गुलजार को दिया गया था। लिटरेचर-फॉर-चिल्ड्रन कैटगरी में, पिछले वर्ष टाटा ट्रस्ट के 'पराग' पहल के सहयोग से द बिग लिटल अवार्ड का गठन किया गया था, जो दो श्रेणियों-– लेखक तथा चित्रकार/कलाकार श्रेणी को पुरस्कृत करेगा – जिसमें लेखक श्रेणी में हर वर्ष एक भाषा को सम्मानित किया जाएगा। ‘द 2017 अवार्ड' बांग्ला साहित्य को सम्मानित करता है।

भारतीय साहित्यिक फलक पर अनोखी उपलब्धियों को सम्मानित करने वाले अन्य पुरस्कार हैं- टाटा नेक्सन लिटरेचर लाइव! फर्स्ट बुक अवार्ड, टाटा लिटरेचर लाइव! बुक ऑफ द ईयर, टाटा लिटरेचर लाइव! पब्लिशर ऑफ द ईयर तथा तथा टाटा लिटरेचर लाइव! बिज़नेस बुक पुरस्कार।

टाटा लिटरेचर लाइव! दि मुम्बई लिटफेस्ट 2017 का आयोजन दो प्रसिद्ध सांस्कृतिक स्थलों – नैशनल सेंटर फॉर द पर्फॉर्मिंग आर्ट्स (NCPA), नरीमन प्वाइंट (नवम्बर 16-19, 2017) तथा पृथ्वी थिएटर, जुहू (नवम्बर 18 तथा 19, 2017) में किया जाएगा।

यहां प्रवेश निःशुल्क है और पहले आओ पहले पाओ आधार पर होगा।

टाटा लिटरेचर लाइव! के बारे में अधिक विवरण के लिए। दि मुम्बई लिटफेस्ट 2017, कृपया विजिट करें:

टाटा लिटरेचर लाइव! के बारे में अधिक विवरण के लिए। दि मुम्बई लिटफेस्ट 2017, कृपया विजिट करें:
फेस्टिवल वेबसाइट: www.tatalitlive.in
फेसबुक:https://www.facebook.com/TataLitLive
Twitter: https://twitter.com/TataLitLive

टाटा समूह, टाटा लिटरेचर लाइव! का शीर्षक प्रायोजक है! दि मुम्बई लिटफेस्ट, टाटा नेक्सन तथा टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज इस समारोह के सह-प्रायोजक हैं और लैंडमार्क इसका बुक स्टोर पार्टनर है। इस समारोह की रूपरेखा श्री अनिल धारकर ने बनाई थी, जो लिटरेचर लाइव! के संस्थापक तथा निदेशक हैं, जो टाटा समूह के सहयोग से इस भव्य समारोह का आयोजन करता है।

टाटा लिटरेचर लाइव! में शिरकत करने वाले लेखकों की पूरी सूची देखने के लिएयहां क्लिक करें । दि मुम्बई लिटफेस्ट 2017।